बर्मा. म्यांमार (Myanmar) की सैन्य सरकार ने पारंपरिक नव वर्ष के अवसर पर शनिवार को 23,000 से अधिक कैदियों (Prisoners) को रिहा कर दिया, जिसमें तीन राजनीतिक कैदी भी शामिल हैं. वहीं फरवरी में हुए तख्तापलट के मुख्य सूत्रधार सैन्य नेता ने बताया कि वह इस माह के अंत में क्षेत्रीय सम्मेलन में शिरकत करेंगे. अभी यह स्पष्ट नहीं है कि रिहा किए गए लोगों में तख्तापलट का विरोध करने के लिए गिरफ्तार किए गए लोकतंत्र समर्थक कार्यकर्ता शामिल हैं कि नहीं.

सरकारी प्रसारक एमआरटीवी ने कहा कि जुंटा प्रमुख वरिष्ठ जनरल मिन ऑग हेलांग ने 23,047 कैदियों को रिहा किया है, जिनमें 137 विदेशी शामिल हैं और इन्हें म्यांमा से बाहर भेजा जाएगा. उन्होंने अन्य लोगों की सजा की अवधि भी कम की है. देश की बागडोर निर्वाचित सरकार को वापस सौंपने की मांग करने वाले प्रदर्शनकारियों पर सुरक्षाबलों की कार्रवाई जारी है. सोशल मीडिया में ऐसी खबरे हैं कि मोगोक शहर में शनिवार को तीन लोग मारे गए.

देश में गिरफ्तारियों और मारे गए लोगों का लेखा जोखा रखने वाले 'असिस्टेंस एसोसिएशन फॉर पॉलिटिकल प्रिजनर्स के मुताबिक तख्तापलट के बाद से 728 प्रदर्शनकारी और आम नागरिक सुरक्षा बलों के हाथों मारे गए हैं. समूह का कहना है कि 3,141 लोग हिरासत में हैं, जिनमें देश की नेता आंग सान सू ची भी शामिल हैं.