धर्म-कर्म डेस्क, गणेश जी को विघ्नहर्ता माना जाता हैं। इनका नाम लेते ही बड़े से बड़े सकंट में भी आशा की किरण नजर आती हैं। प्रत्येक मनुष्य नया काम करने से पहले भगवान गणेश का नाम अवश्य लेते हैं। गणेश जी के दर्शन और नाम लेना काफी शुभ माना जाता हैं। लेकिन कुछ ऐसी रोचक बातें जो भगवान गणेश से जुड़ी हुई हैं।

भगवान गणेश का शरीर लाल और हरे रंग का हैं। लाल रंग शक्ति व हरा रंग समृद्धि का प्रतीक होता हैं। इसका तात्पर्य यह है कि जहां भगवान गणेश होते हैं वहां सदा शक्ति और समृद्धि का निवास होता हैं। 
गणेश जी की दो शादियां हुई थी उनका नाम सिद्धि और बुद्धि हैं। इनके दो पुत्र थे जिनका नाम क्षेत्र और लाभ हैं।
भगवान शिव जो कि उनके पिता हैं उनको भी एक बार त्रिपुर राक्षस के वध करने से पूर्व विजय प्राप्त करने के लिए भगवान गणेश जी की पूजा की थी।
भगवान शिव के एक दांत नहीं होने की वजह यह है कि एक बार परशुराम भगवान शिव के दर्शनों के लिए कैलाश पर्वत गए। लेकिन भगवान गणेश ने उनको शिवजी के दर्शन नहीं करने दिए। ऐसा करने पर परशुराम ने उनपर फरसे से वार किया। परशुराम का सम्मान करते हुए उन्होंने फरसे के वार को दांत पर झेला। जिसकी वजह से उनका एक दांत टूट गया।