पेरिस, पुर्तगाल और फ्रांस ने 2018 फुटबॉल विश्व कप फाइनल्स के लिए क्वालीफाई कर लिया है जबकि नीदरलैंड की टीम इस प्रतिष्ठित टूर्नामेंट में जगह बनाने की दौड़ से बाहर हो गई। पुर्तगाल ने योजना जोरोऊ के आत्मघाती गोल और आंद्रे सिल्वा के गोल की बदौलत लिस्बन में स्विट्जरलैंड को 2-0 से हराया। फ्रांस ने स्टेड डि फ्रांस में हुए कड़े मुकाबले में ग्रिजमैन और ओलिवर गिरोड के गोल की बदौलत बेलारूस को 2-1 से शिकस्त दी। फ्रांस ने अपने अंतिम दो क्वालीफायर में बुल्गारिया और बेलारूस को रहाकर विश्व कप के लिए सीधे क्वालीफाई किया जबकि पिछले दो मौकों पर उसे प्ले ऑफ में हिस्सा लेना पड़ा था।

दक्षिण अफ्रीका में 2010 में हुए विश्व कप के फाइनल और चार साल बाद ब्राजील में सेमीफाइनल तक का सफर तय करने वाली नीदरलैंड की टीम हालांकि विश्व कप की दौड़ से बाहर हो गई। टीम को स्वीडन के खिलाफ 7-0 के अंतर से जीत की दरकार थी, लेकिन एम्सटर्डम में मेजबान टीम आर्येन रोबेन के दो गोल के बावजूद 2-0 से जीत दर्ज कर सकी और विश्व कप फाइनल्स में जगह बनाने से चूक गई। इस मैच के बाद रोबेन ने अंतरराष्ट्रीय फुटबॉल से संन्यास लेने की घोषणा भी की। तैंतीस साल के रोबेन ने कहा कि मैं हमेशा 2010 और 2014 के विश्व कप को याद रखूंगा। ये मेरी सर्वश्रेष्ठ यादें हैं। इन दो प्रतियोगिताओं के दौरान हमने असली टीम बनाई।