नई दिल्ली : राजधानी दिल्ली समेत पूरे उत्तर भारत में तपती धूप और भीषण गर्मी  से हर कोई परेशान है. दोपहर में चलने वाली लू के कारण लोग घर से निकलने से बच रहे हैं, लेकिन हरियाणा के महेंद्रगढ़ में एक शख्स इस गर्मी में रजाई ओढ़कर सो रहा है. इतना ही नहीं धूप में बाहर निकलने पर स्वैटर, शॉल ओढ़कर निकल रहा है. गर्मी में इस शख्स को ऐसे देखकर हर कोई हैरान है. इतना ही नहीं यह शख्स आग तापने को मजूबर है. 

दरअसल, महेंद्रगढ़ में रहने वाले संतराम नाम के शख्स को तपती धूप में सर्दी लगती है और सर्दियों के मौसम में गर्मी लगती है. इतना ही नहीं जैसे-जैसे आम लोगों के लिए गर्मी का प्रचंड बढ़ता है, संतराम रात को ज्यादा से ज्यादा रजाइयां लेकर सोता है. ग्रामीणों का कहना है कि संतराम यह काफी समय से कर रहे हैं. गांव की एक लड़की देओरली का कहना है कि वह संतराम को गर्मियों में चादर ओढ़ते और सर्दियों में हल्के कपड़े पहनकर घूमते हुए काफी समय से देख रही हैं.

सर्दियों में बर्फ खाते हैं संतराम
कुरदत के आगे मजबूर संतराम गर्मी में रजाइयां ओढ़ते हैं तो लोगों को कंपा देने वाली ठंड में ना सिर्फ बर्फ का पानी पीते हैं बल्कि कई बार तो बर्फ तकी सिल्ली पर लेटते हैं. हाड़मास की सर्दी में संतराम सुबह 5 बजे उठकर तलाब में नहाते हैं. इतना ही नहीं कुछ लोगों का कहना है कि जनवरी के महीने में संतराम को पसीने आते हैं.

सर्दियों में बर्फ खाते हैं संतराम
कुरदत के आगे मजबूर संतराम गर्मी में रजाइयां ओढ़ते हैं तो लोगों को कंपा देने वाली ठंड में ना सिर्फ बर्फ का पानी पीते हैं बल्कि कई बार तो बर्फ तकी सिल्ली पर लेटते हैं. हाड़मास की सर्दी में संतराम सुबह 5 बजे उठकर तलाब में नहाते हैं. इतना ही नहीं कुछ लोगों का कहना है कि जनवरी के महीने में संतराम को पसीने आते हैं.

नहीं किसी भी तरह की कोई बीमारी
संतराम का कहना है कि उन्हें किसी तरह की कोई बीमारी नहीं है, उनका शरीर बचपन से ही ऐसा है. बता दें कि संतराम को जिला प्रशासन पहले कई बार सम्मानित कर चुका है और उनकी आर्थिक सहायता भी कर रहा है. जिला प्रशासन की ओर से कई बार डॉक्टरों ने संतराम के घर जाकर उनकी जांच की, लेकिन नतीजा शून्य निकला. डॉक्टरों का कहना है कि संतराम के साथ जो कुछ भी हो रहा है वह कुदरत की देन है.

बर्फ पर सबसे ज्यादा समय तक लेटने का तोड़ा रिकॉर्ड
संतराम का कहना है कि उन्होंने बर्फ पर सबसे ज्यादा समय तक लेटने का रिकॉर्ड तोड़ दिया है. महेंद्रगढ़ के लोग संतराम को मौसम विभाग के नाम से बुलाते हैं.