इफस्टाइल डेस्क,  गुलाबजल को गुलाब के फूल की पंखुडियों से बनाया जाता है।आपको इन पंखुडियों को पानी में तब तक उबालना हैं जब तक पंखुडियां अपनी रंगत ना छोड दें।गुलाबजल से आप अपना सौंदर्य निखार सकती हैं। गुलाबजल अपने विशेष गुणों और खुशबू के कारण काफी लोकप्रिय है। आईये जानते है इसके फायदें....

मुंहासों को बढ़ने से रोकने और उनकी रोकथाम के लिए नींबू के रस की जितनी भी मात्रा आप लें, गुलाब जल की मात्रा उसकी दोगुनी होनी चाहिए। इस मिश्रण को चेहरे पर पंद्रह मिनट तक लगाकर छोड़ दें और फिर साफ पानी से चेहरा साफ कर लें। संतरे के छिलके को धूप में सुखाकर उसे पीस लें। इस पाउडर में थोड़ी सी मात्रा में गुलाब जल मिलाकर एक पेस्ट तैयार कर लें। इस पेस्ट को प्रभावित जगह पर लगाकर कुछ देर के लिए छोड़ दें. उसके बाद गुनगुने पानी से चेहरा साफ कर लें। चंदन पाउडर के साथ गुलाब जल मिलाकर लगाने से एक ओर जहां चेहरे पर निखार आता है वहीं मुंहासों की समस्या भी दूर हो जाती है। चंदन पाउडर में एंटी-बैक्टीरियल गुण होता है। जिससे बैक्टीरिया पनपने नहीं पाते हैं। मुलतानी मिट्टी को गुलाब जल के साथ मिलाकर लगाने से एक ओर जहां त्वचा में निखार आता है वहीं त्वचा से जुड़ी कई समस्याएं भी दूर हो जाती हैं।