अमेरिका के उपराष्ट्रपति माइक पेंस (Mike Pence) के एक स्टाफ को कोरोना वायरस (Coronavirus) का संक्रमण हुआ है. उपराष्ट्रपति के ऑफिस में पॉइंटमैन के तौर पर तैनात शख्स वाशिंगटन में कोरोना वायरस के संक्रमण के मामलों को देख रहा था. एक प्रवक्ता के हवाले से बताया गया है कि वो टेस्ट में कोरोना वायरस से संक्रमित पाया गया है.

हालांकि उपराष्ट्रपति माइक पेंस की सेक्रेटरी केटी मिलर ने बताया है कि संक्रमित स्टाफ के संपर्क में न तो राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप आएं हैं और न ही उपराष्ट्रपति माइक पेंस. उसके संपर्क में आने वाले व्यक्तियों की जांच की जा रही है.

अमेरिका के शीर्ष नेतृत्व के नजदीक पहुंची बीमारी
अमेरिकी लीडरशिप के इनर सर्किल में कोरोना वायरस के संक्रमण का ये सबसे ताजा मामला है. इस बीच राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने कोरोना वायरस से लड़ने के लिए अमेरिकी तैयारियों को लेकर प्रेस कॉनफ्रेंस भी किया है. उपराष्ट्रपति माइक पेंस भी प्रेस कॉन्फ्रेंस में मौजूद थे.



पिछले महीने ट्रंप और माइक पेंस की मौजूदगी वाले एक राजनीतिक कार्यक्रम में शामिल होने वाले एक शख्स को वायरस संक्रमण में पॉजिटिव पाया गया था. ऐसे कई राजनीतिक शख्सियतें हैं, जिनका राष्ट्रपति ट्रंप और उपराष्ट्रपति माइक पेंस से रोज का मिलना-जुलना था, वो बीमारी से बचने के लिए सेल्फ क्वॉरेंटाइन में चले गए हैं.

पिछले हफ्ते कोरोना वायरस की जांच में राष्ट्रपति ट्रंप नेगेटिव पाए गए थे. वो काफी कहने पर संक्रमण की जांच के लिए राजी हुए थे. ब्राजील के राष्ट्रपति के डेलीगेशन में कई व्यक्तियों से मुलाकात के बाद ट्रंप कोरोना वायरस अपने संक्रमण की जांच के लिए तैयार हुए थे. फ्लोरिडा में हुए इस कार्यक्रम के बाद एक शख्स को वायरस संक्रमण में पॉजिटिव पाया गया था.

अमेरिका में संक्रमण की वजह से मृतकों की संख्या बढ़कर 216 हुई
अमेरिका में कोरोना वायरस का संक्रमण तेजी से फैला है. वायरस के संक्रमण की चपेट में आकर अब तक 216 लोगों की मौत हो चुकी है. मरने वालों की संख्या पिछले तीन दिनों में दोगुनी हो गई है. अमेरिका में वायरस संक्रमण के मामले बढ़कर 16,600 हो गए हैं.

कोरोना वायरस के संक्रमण की वजह से अमेरिका के कई बड़े शहरों को लॉक डाउन किया गया है. शुक्रवार को फ्लोरिडा के बाद न्यूयॉर्क और इलिनॉयस में भी बंदी की गई. संक्रमण की वजह से लॉस एंजिल्स और शिकागो में भी लॉक डाउन है.