नई दिल्ली, राहुल गांधी इन दिनों अमेरिका का दौरे पर है। दौरे के दौरान राहुल गांधी नेब र्कले स्थित यूनिवर्सिटी ऑफ कैलिफोर्निया में एक व्याख्यान भी दिया है। यहां वे छात्रों से रूबरू हुए और उनके सवालें के जवाब भी दिए। उन्होंने भारत के इतिहास, राजनीति, गरीबी, वैश्विक हिंसा और राजनीति पर भी बात की। छात्रों से चर्चा के दौरान उन्होंने यूपीए सरकार और फिर मोदी सरकार पर भी बात की। यूपीए सरकार को लेकर खुद राहुल गांधी ने कहा की साल 2012 के आस-पास कांग्रेस पार्टी में अहंकार आ गया था। हमने लोगों से संवाद करना बंद कर दिया था।

इसका भुगतान हमे हार के रूप में साल 2014 के लोकसभा चुनाव में करना पड़ा। आपको बता दें कि साल 2014 के आम चुनाव में कांग्रेस बुरी तरीके से हारी थी। राहुल गांधी ने मोदी सरकार, बीजेपी और आरएसएस पर तंज कसते हुए कहा, मुझे बदनाम करने की साजिश की जा रही है। इसके लिए पूरी मशीनरी चल रही है। 1000 लोग कंप्यूटर लेकर बैठे हैं और मेरे बारे गलत फैमी फैला रहे हैं। इस मशीनरी को लीड ऐसे लोग कर रहे हैं जो सरकार चला रहे हैं।

राहुल ने कहा, ये मशीनरी मुझे अनिच्छुक राजनीतिज्ञ बताते हैं। वे कहते हैं कि मैं पार्ट टाइम राजनीति करता हूं, मैं मुर्ख हूं। यह काम पूरी मशीनरी कर रही है। कांग्रेस उपाध्यक्ष ने पहली बार कहा कि वो प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार बनने के लिए तैयार हैं। राहुल ने कहा कि अगर पार्टी कहेगी तो मैं प्रधानमंत्री पद का उम्मीदवार बनने को तैयार हूं। परिवारवाद को लेकर मुझपर निशाना न साधें, हमारे देश में काफी हद तक ऐसे ही काम होता है।