वाशिंगटन, अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने उत्तर कोरिया के सर्वोच्च नेता किम जोंग उन के वार्ता के प्रस्ताव को स्वीकार कर लिया है। व्हाइट हाउस और वाशिंगटन पहुंचे दक्षिण कोरिया के राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार चुंग ईयू योंग ने गुरुवार रात को इसकी पुष्टि की। व्हाइट हाउस की प्रेस सचिव साराह सैंडर्स ने कहा, ‘‘राष्ट्रपति ट्रंप दक्षिण कोरिया के प्रतिनिधिमंडल और राष्ट्रपति मून की इस पहल को सराहते हैं। वह (ट्रंप) एक निश्चित समय और स्थान पर किम जोंग उन से मिलने का निमंत्रण स्वीकार करेंगे। हम उत्तर कोरिया के परमाणुनिरस्त्रीकरण को लेकर आशान्वित हैं। हालांकि, इस बीच उत्तर कोरिया पर सभी पाबंदियां और दबाव जारी रहेंगे।’’

व्हाइट हाउस में ट्रंप से मुलाकात करने के बाद चुंग ने कहा, ‘‘किम जोंग उन ने जल्द से जल्द राष्ट्रपति ट्रंप से मुलाकात करने की इच्छा जताई थी। राष्ट्रपति ट्रंप ने कहा कि वह मई तक किम जोंग उन से मिलेंगे।’’ वाशिंगटन पोस्ट के मुताबिक, हालांकि, चुंग ने यह जानकारी नहीं दी कि यह मुलाकात कहां होगी। चुंग के नेतृत्व में इस सप्ताह दक्षिण कोरिया का एक प्रतिनिधिमंडल उत्तर कोरिया गया था, जहां किम जोंग उन और उनके वरिष्ठ अधिकारियों ने अमेरिका से वार्ता करने की इच्छा जताई थी।

इसके साथ ही किम जोंग परमाणु निरस्त्रीकरण और संबंधों को सामान्य बनाए रखने पर चर्चा के लिए भी तैयार थे। सियोल में राष्ट्रपति कार्यालय ने स्पष्ट किया कि यह मुलाकात मई के अंत तक हो सकती है। ट्रंप ने इस मुलाकात के बारे में ट्वीट कर कहा, ‘किम ने दक्षिण कोरिया के प्रतिनिधियों के साथ परमाणु निरस्त्रीकरण पर चर्चा की। इस दौरान उत्तर कोरिया द्वारा किसी तरह की मिसाइल का परीक्षण नहीं हुआ। अच्छी बात है लेकिन जब तक इस दिशा में एक समझौता नहीं हो जाता, उत्तर कोरिया पर लगे प्रतिबंध जारी रहेंगे।’