नई दिल्ली:अमेरिका भारत सहित जापान, दक्षिण कोरिया और अन्य आठ देशों को ईरान से तेल आयात करने की मंजूरी देने के लिए तैयार हो गया है। इस खबर की पुष्टि अमेरिकी राष्ट्रपति डॉनाल्ड ट्रंप प्रशासन के एक वरिष्ठ अधिकारी ने की है। जानकारी के मुताबिक ट्रम्प का मकसद ईरान की अर्थव्यवस्था धीमी करना था, लेकिन इसकी वजह से तेल की कीमतों में इजाफा मंजूर नहीं है। ऐसे में आठ देशों को तेल आयात में छूट दी जा रही है। इस संबंध में अमेरिकी विदेश मंत्री माइक पोम्पियो जल्द ही घोषणा कर सकते हैं।

सूत्रों के हवाले से खबर है कि ट्रम्प प्रशासन आठों देशों को छूट देने में संतुलन बनाए रखेगा, जिससे तेल बाजार में पर्याप्त सप्लाई होती रहे। साथ ही, तेल की कीमतें भी न बढ़ें। ट्रम्प प्रशासन यह भी ध्यान रखेगा कि तेल निर्यात से ईरान की सरकार पर्याप्त रेवेन्यू भी न हासिल कर सके। पिछले महीने कई देशों को तेल आयात में छूट मिलने की अटकलों से वैश्विक बाजार में क्रूड ऑयल के दाम 15% तक गिरकर 85 डॉलर प्रति बैरल तक पहुंच गए थे। साथ ही, यह संकेत भी मिले थे कि ओपेक सदस्य आपूर्ति में आई कमी को पूरा करेंगे। शुक्रवार सुबह लंदन में क्रूड वायदा की कीमत 73.04 डॉलर प्रति बैरल थी।