जयपुर:रेतीली जमीन पर चेलने वाले मशहूर जानवार ऊंट और ऊंटनी की यह खासियत तो कई लोग जानते हैं लेकिन क्या आपको पता है कि ऊंटनी का दूध भी बच्चों के लिए काफी फायदेमंद होता है। दरअसल, राजस्थान में स्थित एशिया के एक मात्र ऊंट अनुसन्धान केंद्र ने कुछ वक्त पहले एक सफल प्रयोग किया है। जिसमें सामने आया है कि ऊंटनी का दूध मंधबुद्धि वाले बच्चों की बुद्धि का विकास कर रहा है। इससे पहले ऊंटनी का दूध मधुमेह जैसी कई बीमारियों में कारगर साबित हुआ है।

जिसके बाद अब यह दूध मंदबुद्धि वाले बच्चों के लिए भी एक वरदान बन गया है। पिछले दो सालों में ऊंटनी का दूध पीने वाले बच्चों में काफी बदलाव देखे गए हैं। ऊंटनी के दूध ने इन बच्चों की खुशियों को लौटा दिया है। एक ओर जहां ऊंटनी का दूध मधुमेह और कई बड़ी बीमारियों में कारगर साबित हुआ है। वहीं दूसरी ओर मंदबुद्धि बच्चों के लिए भी यह वरदान बन गया है। 17 साल तक की गई रिसर्च के बाद अब इसका बड़े पैमाने पर प्रयोग किया जा रहा है।

दो साल पहले इस तरह का प्रयोग देश के एकमात्र सबसे बड़े ऊंटो के रीसर्च सेंटर एनआरसीसी ने किया था। जहां पंजाब के बच्चों पर इसका प्रयोग किया गया था। जिसके सकारात्मक परिणामों के बाद आज इस अनुसंधान में एनआरसीसी ने बड़ी उपलब्धि हासिल की हैं। वहीं अब ऊंटनी के दूध की डिमांड इतनी बढ़ी है की बाहर विदेशों में इसकी कीमत डॉलर में मिल रही है।