सीबीआई आज उन्नाव गैंगरेप के आरोपी विधायक कुलदीप सिंह सेंगर का नार्को टेस्ट करा सकती है। वहीं, सीबीआई की तीन सदस्यीय टीम आज सुबह यहां सिंचाई विभाग के गेस्ट हाउस पहुंची, जहां पीड़ित परिवार को ठहराया गया है। यहां से पीड़िता और उसकी मां को साथ लेकर टीम लखनऊ रवाना हो गई। बताया जा रहा है कि सीबीआई दफ्तर में उनका आमना सामना कुलदीप सिंह सेंगर से कराया जाएगा।

पहले ये कयास लगाए जा रहे थे कि सीबीआई कुलदीप सिंह सेंगर व सह आरोपी शशि सिंह को उन्नाव के माखी में क्राइम सीन पर भी ले जा सकती है। वहां दोनों का पीड़िता से आमना-सामना कराया जाएगा। लेकिन, अब लखनऊ में ही ये कार्रवाई की जाएगी। सूत्रों का कहना है कि उन्नाव प्रकरण में दर्ज तीनों केसों पर एक साथ जांच शुरू की गई थी लेकिन प्राथमिकता के आधार पर गैंगरेप मामले की जांच पहले की जा रही है।

यही कारण है कि शुक्रवार को विधायक कुलदीप सिंह को पहले हिरासत में लेकर पूछताछ की गई, फिर रात में उन्हें गिरफ्तार कर लिया गया। जबकि गैंगरेप मामले में सह आरोपी शशि सिंह को शनिवार को गिरफ्तार किया गया।

दोनों पक्षों का आमना-सामना कराने के बाद जो भी तथ्य सामने आएंगे, उसके हिसाब से नार्को टेस्ट कराया जाएगा।

उधर, पीड़िता के पिता की हत्या के आरोप में उन्नाव जेल में बंद विधायक कुलदीप सिंह सेंगर के भाई अतुल सेंगर को भी सीबीआई रिमांड पर लेगी। फिर उन्नाव जेल जाकर जांच करेगी। आरोप यह भी लग रहे हैं कि पीड़िता के पिता की जेल के अंदर भी पिटाई की गई थी। सीबीआई जेल कर्मियों की भूमिका की भी जांच करेगी।