हेल्थ डेस्क, शायद ही कोई ऐसा व्यक्ति हो जो साफ और चमकता हुआ चेहरा नहीं चाहता हो। बेदाग, खूबसूरत, चमकता चेहरा हर किसी की पहली पसंद होती है। किसी को भी अपने चेहरे पर झाइयां, दाग-धब्बे या किसी भी प्रकार के अनचाहे निशान पसंद नहीं हैं। लेकिन आजकल का बिगड़ा हुआ लाइफस्टाइल, प्रदूषण भरा माहौल और भागदौड़ भरी जिंदगी के चलते चेहरे की चमक खोना आम बात हो गई है। कई लोग अपने चेहरे की चमक को बनाए रखने के लिए हजारों रुपये के ब्यूटी प्रॉडक्ट्स इस्तेमाल करते हैं। लेकिन कई बार उनसे भी कोई असर नहीं होता है। अगर आप तमाम तरह के प्रयास कर के थक गए हैं तो आज हम आपको जो नुस्खा बता रहे हैं यह आपके बहुत काम आने वाला है। इस नुस्खे का नाम है तुलसी। जी हां, तुलसी सिर्फ पूजा-पाठ और चाय का स्वाद बढ़ाने के काम ही नहीं आती बल्कि तुलसी चेहरे के लिए भी किसी वरदान साबित हुई है।

तुलसी बहुत ही गुणकारी औषधि है, इसके गुणों की फेहरिस्‍त काफी लंबी है। कई बीमारियों में तुलसी के पत्‍तों का प्रयोग फायदेमंद है। लेकिन आज हम आपको तुलसी के जिन फायदों के बारे में बता रहे हैं वह चेहरे की चमक और निखरी हुई त्वचा से संबंधित हैं। तुलसी के पत्तों में भारी मात्रा में एंटीऑक्सीडेंट, एंटीबैक्टीरियल, एंटीफंगल, एंटीवायरल और रोग प्रतिरोध को बढाने वाले तत्व होते हैं। ये सभी गुण रोग प्रतिरोध क्षमता को तो मजबूत करते ही हैं साथ ही चेहरे की चमक भी बढ़ाते हैं। तुलसी के पत्तों में मौजूद एंटीआॅक्सीडेंट त्वचा से संबंधी सभी रोग को दूर करते ​​हैं।

स्वस्थ और निखरी हुई त्वचा

तुलसी के पत्तों से स्वस्थ और निखरी हुई त्वचा पाना बहुत आसान है। तुलसी की पत्तियों में एंटीऑक्सिडेंट पाया जाता है जिससे त्वचा निखरती है। निखरी त्वचा के लिए तुलसी के पत्तों के पेस्ट में लगभग एक चम्मच ग्लिसरीन मिलाएं। इस मिश्रण से अपने चहरे पर रोज अच्छे से मालिश करें। कुछ ही दिनों में त्वचा स्वस्थ होने के साथ ही निखरने भी लगेगी।

मुंहासों से छुटकारा
आजकल चाहे पुरुष हो या महिला हर कोई मुंहासों की समस्या से परेशान रहता है। प्रदूषण भरे माहौल और दूषित खानपान के चलते मुंहासे होना आम बात है। तुलसी के पत्ते मुंहासों को जड़ से खत्म करने का दम रखते हैं। तुलसी के पत्तों का पेस्ट लगाने से मुंहासों स़े छुटकारा मिलता है। इस पेस्ट में आप गुलाब जल, हल्दी, बेसन और चंदन मिला सकते हैं। जबकि जिन लोगों के पिंपल्स नहीं होते हैं उन्हें भी रोजाना 3 से 4 पत्ते तुलसी के खाने चाहिए।

एंटी एजिंग की समस्या
तनाव भरे जीवन के चलते लोगों में एंटी एजिंग की समस्या देखी जा रही है। हालांकि इसके लिए एलोपेथी में बहुत इलाज हैं, लेकिन उसमें रिस्क भी उतना ही है। अगर आप किसी आयुर्वेदिक या घरेलू नुस्खे से एंटी एजिंग की समस्या को दूर करना चाहते हैं तो तुलसी के पत्तों को खाना और इसका पेस्ट आपके लिए बहुत फायदेमदं हो सकता है। ऐसा इसलिए क्योंकि तुलसी के पत्तियों में एंटी-एजिंग गुण पाए जाते हैं।