कोलकाता:पश्चिम बंगाल में तृणमूल कांग्रेस के विधायक सत्यजीत बिस्वास की हत्या के मामले में दो लोगों को गिरफ्तार कर लिया गया है। साथ ही हंसखली थाने के प्रभारी को निलंबित कर दिया गया है। बिस्वास को शनिवार रात गोली मारी गई थी। नजदीकी अस्पताल ले जाने पर डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया। घटना के वक्त वे फुलबारी इलाके में सरस्वती पूजा के कार्यक्रम में थे।

पुलिस के मुताबिक, हमलावर ने प्वाइंट ब्लैंक रेंज से सत्यजीत पर गोली चलाई। इलाके में कानून-व्यवस्था बनाए रखने के लिए भारी पुलिसबल तैनात किया गया है। सत्यजीत नादिया जिले की कृष्णागंज सीट से विधायक थे। कुछ दिन पहले ही उनकी शादी हुई थी।

तृणमूल ने कहा- यह भाजपा की साजिश

तृणमूल नेता शंकर दत्ता का आरोप है कि यह भाजपा की ओर से साजिश के तहत कराई गई हत्या है। वहीं, बंगाल भाजपा अध्यक्ष दिलीप घोष ने आरोपों को बेबुनियाद करार दिया। उन्होंने कहा कि विधायक की हत्या दुर्भाग्यपूर्ण है। इसकी सीबीआई जांच होनी चाहिए।