वाशिंगटन, अमेरिका में मिनेसोटा के मिनियापोलिस शहर के बाहर एक मस्जिद और महिला क्लिनिक में गत वर्ष हुए विस्फोट मामले में ग्रामीण इलिनोइस समुदाय के तीन लोगों को गिरफ्तार किया गया है। मिनेसोटा अमेरिकी अटार्नी कार्यालय के मुताबिक गिरफ्तार किए गए लोगों माइकल मैकहोर्टर (29), जोइ मोरिस (22) और माइकल बी हैरी (47) पर मिनेसोटा के ब्लूमिगटन स्थित दर-अल-फारुक इसलामिक केंद्र पर गत पांच अगस्त को हुए पाइप बम हमले में शामिल रहने का आरोप है।

इस घटना में इमारत क्षतिग्रस्त हो गया लेकिन कोई हताहत नहीं हुआ। दर अल-फारूक मस्जिद मुख्य रूप से मिनेयापोलिस क्षेत्र में रह रहे सोमाली लोग इस्तेमाल करते हैं। सबसे हालिया जनगणना के अनुमान के अनुसार, अमेरिका में सबसे बड़ा सोमाली समुदाय मिनेसोटा में निवास करता है। तीनों संदिग्धों को इलिनोइस में एफबीआई एजेंटों द्बारा गिरफ्तार किया गया। उन पर मशीन गन रखने का भी आरोप है तथा गत सात नवंबर को इलिनोइस के चैंपैन में महिलाओं के स्वास्थ्य केंद्र पर बम से हमले का प्रयास करने के भी आरोप हैं।