नई दिल्ली, पांच बार की विश्व चैंपियन महिला मुक्केबाज एमसी मैरीकॉम जब अगले महीने ऑस्ट्रेलिया के गोल्ड कोस्ट में होने वाले राष्ट्रमंडल खेलों में उतरेगी तो उनका लक्ष्य इन खेलों में पहला पदक जीतने का होगा। ओलंपिक कांस्य पदक विजेता भारतीय स्टार मुक्केबाज मैरीकॉम अभी तक रहे राष्ट्रमंडल खेलों में एक भी पदक नहीं जीत सकी है। ऑस्ट्रेलिया के गोल्ड कोस्ट में चार अप्रैल से राष्ट्रमंडल खेल शुरू होंगे।

महिला मुक्केबाजी को 2014 के ग्लास्गो राष्ट्रमंडल खेलों में पहली बार शामिल किया गया था तब पांच बार की एशियाई चैम्पियन मैरीकॉम उन खेलों में हिस्सा नहीं ले पाई थीं। भारत ने ग्लास्गो में चार रजत और एक कांस्य सहित कुल पांच पदक जीते थे। मैरीकॉम 2014 के इंचियोन एशियाई खेलों और 2010 के ग्वांगझू एशियाई खेलों में क्रमश: स्वर्ण और कांस्य पदक जीत चुकी हैं। मणिपुर की मैरी के खाते में सिर्फ राष्ट्रमंडल खेलों का पदक ही नहीं है। ‘मैग्निफिसेंट मैरी’ के नाम से मशहूर मैरीकॉम के लिए यह संभवत: आखिरी राष्ट्रमंडल खेल हो सकते हैं, क्योंकि अगले राष्ट्रमंडल खेलों तक वह 39 वर्ष की हो जाएंगी।