हेल्थ डेस्क, औषधीय गुणों की वजह से आयुर्वेदिक मेडिसिन नीम स्वाद में कड़वी जरूर होती है लेकिन सेहत के लिए यह बहुत फायदेमंद होती है। एंटी-बैक्टीरियल, एंटी-फंगल और एंटी-सेप्टिक गुणों से भरपूर नीम का इस्तेमाल दवाइयों और ब्यूटी प्रॉडक्ट में भी किया जाता है। आइए जानें इससे मिलने वाले फायदों को बारे में.....

•रोजाना खाली पेट नीम की 4-5 पत्तियां चबाने से डायबिटीज को कंट्रोल किया जा सकता है। इसके अलावा पेट में कीड़ो के कारण भूख न लगना, कमजोरी या जरूरत से ज्यादा भूख लगना परंतु खाने का फायदा न होना, मुंह से लार आना आदि। नीम का सेवन करने से इस परेशानी से राहत मिलती है और पेट का दर्द भी ठीक हो जाता है।

•दांतों और मसूढ़ों से जुड़ी परेशानियां नीम का दातुन करने से जल्दी ठीक हो जाती हैं। नीम मुंह में पनप रहे बैक्टिरिया खत्म हो जाते हैं। इससे सांसों में ताजगी, मजबूती और दांत सफेद और चमकदार बनते हैं।

•गठिया रोग में जोडों में सूजन और दर्द होने से बहुत तकलीफ होती है। नीम के तेल की नियमित मालिश करने से भी जोड़ों और मांसपेशियों के दर्द में काफी आराम मिलता है।