ब्रिस्टल:भारत और इंग्लैंड के बीच टी-20 सीरीज का तीसरा और आखिरी मैच रविवार को खेला जाएगा। दोनों टीमें 1-1 मैच जीतकर सीरीज में बराबरी पर हैं। भारत को इंग्लैंड के खिलाफ पहली बार उसकी धरती पर अगर टी-20 सीरीज पर कब्जा करना है तो उसे हर हाल में यह मुकाबला जीतना ही होगा। ब्रिस्टल में अब तक दो बार टी-20 मैच हुए हैं इनमें इंग्लैंड को कभी जीत नहीं मिली।

कार्डिफ में हुए पिछले मैच में कुलदीप यादव की कलाई का जादू नहीं चल पाया था। युजवेंद्र चहल भी अपनी गुगली से इंग्लिश क्रिकेटरों को परेशान करने में असफल रहे थे। ऐसे में आखिरी मैच में इन दोनों गेंदबाजों पर दबाव जरूर होगा। मैच भारतीय समयानुसार शाम 6ः30 बजे से खेला जाएगा। प्रसारण सोनी चैनल पर होगा।

भारत को करना होगा पहले मैच जैसा प्रदर्शन:पहले मैच में भारत ने एकतरफा जीत हासिल की थी, लेकिन अगले मुकाबले में ही इंग्लैंड ने वापसी की। उसने खेल के हर क्षेत्र में सुधार किया। यही वजह रही कि पहले मैच में 24 रन पर 5 विकेट लेने वाले कुलदीप दूसरे मुकाबले में 34 रन देने के बावजूद एक भी खिलाड़ी को आउट नहीं कर पाए। दूसरे मैच में भारत का शीर्ष क्रम ढह गया था। पहले मैच में शतक बनाने वाले लोकेश राहुल दहाई के अंक तक नहीं पहुंच पाए। रोहित शर्मा और शिखर धवन भी सस्ते में पवेलियन लौटे थे। कप्तान विराट कोहली सुरेश रैना और महेंद्र सिंह धोनी ने पारी को संभाला था। भारत को यदि आखिरी मैच जीतना है तो उसके शीर्ष क्रम को फॉर्म में लौटना होगा। कोहली-धोनी को भी अपना प्रदर्शन दोहराना होगा।

उमेश-भुवनेश्वर को जल्द लेने होंगे शुरुआती विकेट:गेंदबाजी की बात करें तो उमेश यादव ने पिछले मुकाबले में दो विकेट लिए थे। भुवनेश्वर कुमार ने विकेट लेने के साथ इंग्लिश बल्लेबाजों को बांधे भी रखा। दोनों को इस मैच में भी कुछ वैसा ही प्रदर्शन करना होगा। वहीं, कुलदीप और युजवेंद्र को वापसी करनी होगी। इंग्लैंड के शुरुआती बल्लेबाजों को जल्द पवेलियन भेजना होगा। साथ ही नियमित अंतराल में विकेट लेते रहने होंगे, नहीं तो एलेक्स हेल्स जैसा कोई भी बल्लेबाज इंग्लैंड के नाम सीरीज करने से पीछे नहीं हटेगा।

टीमें (संभावित):
भारतः
 विराट कोहली (कप्तान), रोहित शर्मा, शिखर धवन, लोकेश राहुल, महेंद्र सिंह धोनी (विकेटकीपर), सुरेश रैना, युजवेंद्र चहल, हार्दिक पंड्या, कुलदीप यादव, भुवनेश्वर कुमार, उमेश यादव, दिनेश कार्तिक, मनीष पांडे, कुणाल पंड्या, दीपक चहर और सिद्धार्थ कौल।
इंग्लैंडःइयान मॉर्गन (कप्तान), जोस बटलर, जेसन रॉय, जोस बटलर, जॉनी बेयर्स्टो, एलेक्स हेल्स, जेक बॉल, सैम कुरेन, क्रिस जॉर्डन, लियाम प्लंकेट, आदिल राशिद, जोए रूट और डेविड विली, मोइन अली।