काबुल:अफगानिस्तान (Afghanistan) से एक और धमाके की खबर सामने आ रही है. शनिवार की शाम को राजधानी वेस्ट काबुल के फुल-ई-खोस्क इलाके में जबरदस्त विस्फोट (Explosion) हुआ है, जिसमें में करीब 18 लोगों की मौत हो गई. अफगानिस्तान के टोलो न्यूज के मुताबिक, गृह मंत्रालय ने बताया है कि इस विस्फोट में घायलों की संख्या 30 से ज्यादा है. गृह मंत्रालय ने कहा कि आज के आत्मघाती हमलावर की एक ट्रेनिंग सेंटर के गार्ड्स ने पहचान कर ली थी और वेस्ट काबुल में उसके लक्ष्य तक पहुंचने से पहले ही वह विस्फोट हो गया. इससे पहले, अफगानिस्तान के गजनी प्रांत में शनिवार को दोहरे विस्फोट में नौ नागरिकों की मौत हो गई, जबकि दो पुलिस अधिकारी घायल हो गये. वन टीवी न्यूज ब्रोडकास्टर के मुताबिक गजनी के रावजई शहर में सवारियों से भरी एक वैन के सड़क किनारे एक बारूदी सुरंग से टकराने से पहला विस्फोट हुआ. फिर बाद में पुलिस अधिकारियों के घटनास्थल पर पहुंचे के वक्त दूसरा विस्फोट हुआ.

उल्लेखनीय है कि सितंबर में कतर में काबुल-तालिबान के बीच वातार् की शुरु होने के बावजूद अफगानिस्तान में हिंसक झड़पें तथा बम विस्फोट हो रहे हैं. दोनों पक्षों ने हालांकि लंबे समय तक चलने वाले संघर्ष विराम की इच्छा व्यक्त की है. अफगानिस्तान के पूर्वी प्रांत नांगरहार में सुरक्षा अभियान के दौरान कम से कम 33 तालिबानी आतंकवादी मारे गए हैं और पांच से अधिक घायल हुए हैं. अफगानिस्तान सेना ने शनिवार को यह जानकारी दी. सेना की 201वीं सेलेब कोर के चार इन्फेंट्री ब्रिगेड के अनुसार तालिबान आतंकवादियों ने शेरजाद जिले के हशीम खेल इलाके में उनकी चौकी पर हमला किया जिसके बाद सुरक्षा बलों जवाबी कार्रवाई शुरू की.

16 आतंकियों के शव बरामद
अधिकारियों ने बताया कि घटनास्थल पर 16 आतंकवादी के शव, सात एके-47 राइफलें और एक ग्रेनेड लांचर बरामद किये गये. अफगान सरकार के प्रतिनिधिमंडल और तालिबान दोनों ने दोहा में अपनी बातचीत जारी रखी है, जो देश में लगभग दो दशकों के संघर्ष के बाद राजनीतिक समाधान का मार्ग प्रशस्त कर सकती है. वार्ता की प्रक्रिया जारी रहने के वाबजूद हिंसा की घटनाएं थमने का नाम नहीं ले रही हैं.