जयपुर: लो-फ्लोर बसों के नहीं चलने से परेशान छात्र-छात्राओं ने सोमवार को टोंक रोड को जाम कर विरोध-प्रदर्शन किया। महारानी कॉलेज की छात्रों ने सुबह 10 बजे कॉलेज के बाहर चेन बनाकर रोड को रोक दिया। छात्राओं का कहना है कि लो-फ्लोर बसों के नहीं चलने से ना तो कॉलेज समय पर पहुंच पा रही हैं न कोचिंग क्लासेज में पहुंच रही हैं।

पौन घंटे लगाया जाम

  1. रोड जाम की सूचना पर पुलिस कंट्रोल रूम से पुलिस जाप्ते के साथ अशोक नगर और लालकोठी थाना पुलिस पहुंची। छात्राओं ने पौन घंटे तक सड़क रोके रखी। इस दौरान ट्रैफिक पुलिस ने रामनिवास गार्डन और अशोक मार्ग से यातायात को डायवर्ट कर निकाला।

  2. सुबोध कॉलेज के स्टूडेंट्स किया रोड जाम 

  3. इधर, सुबोध कॉलेज के छात्रों ने भी दोपहर 12 बजे कॉलेज के बाहर टोंक रोड को जाम कर दिया। छात्रों ने कहा कि लो-फ्लोर बसों के नहीं चलने से मिनी बसों में ठूंस कर आना पड़ रहा है। मिनी बसों में भीड़ होने से परेशानी हो रही है। रोड जाम करने की सूचना पर गांधी नगर थाना पुलिस मौके पर पंहुची।

  4. समझाइश कर छात्रों से रास्ता खुलवाया। कॅालेज के छात्रों द्वारा शहर के मुख्य टोंक रोड को जाम करने से टोंक रोड व जेएलएन मार्ग पर जाम के हालात रहे। पुलिस को ट्रैफिक खुलवाने में मशक्कत करनी पड़ी।

  5. 17 सितंबर से जारी है हड़ताल

  6. लो-फ्लोर बसों के कर्मचारियों की 17 सितंबर से हड़ताल जारी है। जेसीटीएसएल कर्मचारियों के साथ प्राइवेट ऑपरेटर मातेश्वरी के कर्मचारियों की संयुक्त हड़ताल 15 वें दिन सोमवार को भी जारी रही। हड़ताल से 350 बसें बंद है जिससे रोजाना लो-फ्लोर बसों में सफर करने वाले शहर के 2 लाख लोग प्रभावित हो रहे हैं। इन 15 दिनों में जेसीटीएसएल को साढ़े तीन करोड़ रुपए का नुकसान हो चुका।