श्रीनगर, जम्मू-कश्मीर की राजधानी श्रीनगर के करण नगर स्थित सीआरपीएफ कैंप के नजदीक मुठभेड में सुरक्षाबलों ने मंगलवार को दो आतंकवादियों को मार गिराया है। सीआरपीएफ कैंप के पास स्थित इमारत में 4 आतंकियों के छिपे होने की आशंका जताई जा रही थी। इनमें दो आतंकियों को मार गिराया और पूरे इलाके में सर्च ऑपरेशन अभी भी जारी है।

इस मुठभेड़ के दौरान सोमवार को सीआरपीएफ का एक जवान शहीद हो गया जबकि जम्मू एवं कश्मीर पुलिस के विशेष अभियान समूह (एसओजी) का हवलदार घायल हो गया था। कश्मीर के आईजीपी स्वयं प्रकाश पानी ने कहा था, हमें दो आतंकियों के मौजूद होने का संदेह है, अब ऑपरेशन अंतिम चरण में है। हमलोग सावधानी से कार्रवाई कर रहे हैं, हमें उम्मीद है कि जल्द ही ऑपरेशन पूरा हो जाएगा। सीआरपीएफ की 23वीं बटालियन के एक चौकस संतरी ने आतंकवादियों को देखा और उन पर गोलीबारी की, जिसके बाद आतंकवादी इस इमारत में घुस गए।

ऑपरेशन आईजी जुल्फीकार हसन ने कहा, मुठभेड़ अब भी जारी है, हम नागरिकों और संपत्ति के किसी भी नुकसान से बचते हुए सावधानीपूर्वक ऑपरेशन चला रहे हैं। आपको बता दें कि सीआरपीएफ का यह कैंप एसएमएचएस अस्पताल के पास स्थित है। गौरतलब है कि छह फरवरी को आतंकवादियों ने इसी अस्पताल से लश्कर-ए-तैयबा के आतंकवादी नवीद जट उर्फ अबु हंजला को पुलिस हिरासत से छुड़ा लिया था। जम्मू-कश्मीर में हुए दोनों हमले की जिम्मेदारी आतंकी संगठन लश्कर-ए-तैयबा ने ली थी।