जयपुर:प्रदेश में चुनावी आहट के साथ ही पुलिस बेडा और अन्य सुरक्षा एजेन्सिया भी सर्तक हो गई है। राजधानी जयपुर में भी पुलिस कमिश्नरेट की ओर से एक विशेष अभियान की शुरूआत की गई है। इस अभियान के शहर के अलग अलग इलाको में अपराधिकयों को चिन्हित कर उन्हे पाबंद किया जा रहा है। साथ ही शहर में सर्च आपरेशन चला बदमाशो की सोच में पुलिस की मौजूदगी भी दर्ज करवाई जा रही है। 

चुनावो की आहट के साथ ही जयपुर पुलिस भी सर्तक हो गई है। शांतिपूर्ण चुनावो और आदर्श आचार सहिंता के पालन के लिए पुलिस ने कमर कस ली है। शहर में सुरक्षा व्यवस्था को मजबूत बनाने के लिए पुलिस कमिश्नरेट की ओर से विशेष रणनिति बनाई गई है। इस रणनिति के तहत शहर के अलग अलग इलाको में बदमाशो को चिन्हित कर उन्हे पांबद किया जा रहा है। साथ ही जयपुर जेल से जमानत पर बाहर आए हार्डकोर बदमाशो की सूची बनाकर उनकी वर्तमान कार्यकलापो की जानकारी जुटाई जा रही है। अतिरिक्त पुलिस आयुक्त नितिनदीप के मुताबिक शहर के बस स्टेण्ड,रेलवे स्टेशन पर विशेष निगरानी के साथ साथ होट्लस और धर्मालाओं में सर्च आपरेशन चलाया जा रहा है। 

इस योजना के साथ ही पुलिस कमिश्नेरट की ओर से शहर के प्रत्येक थानाप्रभारी को अपने अपने इलाको में लाईसेंसी हथियारो को थाने में जमा करवाने का आदेश जारी किए गऐ है। इसके लिए हथियार मालिक को सूचना देकर तुरन्त हथियार जमा कराने के आदेश दिए गए है। इतना ही नही चनावो में अवैध हतियारो की तस्करी भी बढ़ जाती है. ऐसे में शहर के सभी टोल नाको पर राउंड द क्लॉक हथियारबंद जवान तैनात किए गए है। साथ ही शहर में आने वाले तमाम वाहनों के नम्बर ओर वाहन चालक का पहचान पत्र अंकित करने के बाद ही शहर में एंट्री दी जा रही है।

हालांकि जयपुर कमिश्नरेट की ओर से चुनाव ओर आगामी समय मे आने वाले त्यौहारी सीजन को देखते हुए सुरक्षा के कड़े बंदोबस्त किए गए है। ऐसे में जरूरत है कि हम भी एक सच्चे नागरिक का धर्म निभाए ओर अपने पास होने वाली असामाजिक गतिविधियों की जानकारी तुरंत पुलिस को दे।