बागपत: बागपत में आए दिन महिलाओं को बेचने के मामले सामने आते रहते हैं, लेकिन इस बार मामला अजीब है. पश्चिम बंगाल से एक किन्नर को युवती बताकर बागपत के एक गांव में 70 हजार रूपए में बेच दिया गया. उसका भेद खुलने पर युवक ने उसे मारपीट कर घर से निकाल दिया. घर से निकाले जाने के बाद गांव के कुछ युवकों ने उसके साथ बदसलूकी की. बाद में पीड़ित किन्नर पुलिस थाने पहुंची. पुलिस ने सबसे पहले किन्नर को मेडिकल टेस्ट के लिए भेज दिया है.

सिलीगुड़ी की रहने वाली है पीड़िता
मामला दर्ज कर पुलिस जांच में जुट गई है. जानकारी के मुताबिक, पीड़ित किन्नर पश्चिम बंगाल के सिलीगुड़ी की रहने वाली है. जलपाईगुड़ी का रहने वाला युवक उसे नौकरी दिलाने के बहाने दिल्ली लाया था, लेकिन उसने उसे युवती बताकर बागपत कोतवाली क्षेत्र के पाबला गांव में एक युवक को 70 हजार रुपए में बेच दिया. खरीददार ने 7 जून को उसके साथ शादी भी रचा ली थी, जिसके बाद उसके किन्नर होने का भेद खुल गया.

पीड़िता का मेडिकल टेस्ट करवाया गया
भेद खुलने के बाद युवक ने उसे मारपीट कर घर से बाहर निकाल दिया. आरोप है कि घर से निकाले जाने के बाद युवक के साथियों ने उसे बंधक बनाकर अप्राकृतिक संबंध बनाए. उसके बाद युवक उसे मेरठ के कोठे पर बेचने जा रहे थे. किसी तरह वह उनके चंगुलों से बचकर भाग निकली और कोतवाली थाना पहुंच गई. पुलिस को उसने आपबीती बताया, जिसके बाद उसे मेडिकल टेस्ट के लिए भेज दिया गया. पुलिस मामला दर्ज कर जांच में जुट गई है.