पटनाः अपनी पार्टी से नाराज चल रहे बीजेपी सांसद शत्रुघ्न सिन्हा  बुधवार को पटना में राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) के नेता तेजस्वी यादव द्वारा दी गई इफ्तार पार्टी में शामिल हुए. शत्रुघ्न के इस कदम के बाद से उनके भावी राजनीतिक रुझान के बारे में अटकलें लगने लगी हैं. पटना में  तेजस्वी यादव ने अपने निवास 5, सर्कुलर रोड पर आज इफ्तार पार्टी दी. आपको बता दें पटना में आज ऐसी ही पार्टी हज भवन में हुई जिसका आयोजन बिहार के सत्तारूढ़ जनता दल यूनाइटेड (जेडीयू) ने किया. जेडीयू की इफ्तार पाटी में जहां नीतीश कुमार के अलावा एनडीए के सहयोगी रामविलास पासवान,   बीजेपी नेता और बिहार के डिप्टी सीएम समेत कई नेताओं ने शिरकत की वहीं शत्रुघ्न सिन्हा की अनुपस्थिति चर्चा का विषय बनी रही. 

इफ्तार पार्टी में शत्रुघ्न सिन्हा के लालू यादव के दोनों बेटों तेजस्वी यादव और तेज प्रताप यादव के साथ गले मिलते दिखे. इस दौरान उन्हें मुस्लिम टोपी पहने भी देखा गया. तेजस्वी और तेज प्रताप तो पहले से ही मुस्लिम पोशाक में दिख रहे थे. लेकिन सिन्हा के उनके बीच बैठते है तेजस्वी ने शत्रुघ्न को भी टोपी पहनाई. 

इस मौके पर शत्रुघ्न सिन्हा ने संवाददाताओं से कहा , ‘‘ यह पवित्र एवं खुशी का अवसर है. इफ्तार पार्टियां हमारी साझी संस्कृति का हिस्सा हैं. लालू प्रसाद मेरे प्रिय दोस्त हैं. मैं अपने पारिवारिक दोस्तों के बीच पहुंचकर खुश हूं. ’’बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने भी बुधवार को इफ्तार पार्टी आयोजित की. इस पार्टी में एनडीए के सहयोगी और केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान और बिहार के डिप्टी सीएम सुशील मोदी ने शिरकत की. 

पटना में हुई इस इफ्तार पार्टी में जेडीयू नेता और बिहार के सीएम नीतीश कुमार, लोक जनशक्ति पार्टी के अध्यक्ष और केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान और बीजेपी नेता व बिहार के डिप्टी सीएम सुशील मोदी, तीनों नेता ही मुस्लिम टोपी पहने हुए नजर आए.

बता दें कि पटना में 12 जून को भी एक सियासी इफ्तार की दावत दी गई थी. यह दावत बिहार के पूर्व सीएम जीतन राम मांझी ने दी थी. 

इस इफ्तार पार्टी में जेडीयू के पूर्व अध्यक्ष शरद यादव के साथ. आरजेडी नेता तेजस्वी यादव और मीसा भारती शामिल हुए थे.