खेल डेस्क, तेज गेंदबाज मोहम्मद शमी की ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ पांच मैचों की एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय शृंखला के पहले तीन मैचों के लिए भारत की 16 सदस्यीय टीम में वापसी हुई। इस शृंखला के दौरान भारत का यह तेज गेंदबाज एक विश्व रिकॉर्ड अपने नाम कर सकता है। अगर उन्होंने सीरीज के शुरुआत दो मैचों में नौ विकेट हासिल कर लिए तो वह सबसे तेज सौ विकेट लेने वाले गेंदबाज बन जाएंगे। शमी ने 49 वनडे में अब तक 91 विकेट लिए हैं।

फिलहाल वनडे में सबसे तेज सौ विकेट लेने का रिकॉर्ड ऑस्ट्रेलिया के तेज गेंदबाज मिशेल स्टार्क के नाम है। जिन्होंने 52 मैचों में यह उपलब्धि हासिल की थी। बीसीसीआई की रोटेशन नीति के तहत चयनकर्ताओं ने चेन्नई में 17 सितंबर से शुरू हो रही शृंखला के पहले तीन मैचों के लिए शीर्ष स्पिनरों रविचंद्रन अश्विन और रवीन्द्र जडेजा को आराम देने का फैसला किया है। विराट कोहली की अगुआई वाली टीम में एकमात्र बदलाव तेज गेंदबाज शार्दुल ठाकुर को बाहर करके किया गया है। उमेश और शमी को श्रीलंका टेस्ट शृंखला के बाद सीमित ओवरों के मैचों से आराम दिया गया था और अब ब्रेक के बाद उनकी वापसी हुई है।