इलाहबाद, स्कूल में मासूम बच्चों के साथ होने वाली असंवेदनशीलता रुक नहीं रही है। पिछले कुछ दिनों से गुरुग्राम के एक निजी स्कूल में हुई 7 वर्षीय बच्चे की मौत के बाद देशभर में उबाल है। इसी बीच एक नया मामला हैदराबाद के एक प्राइवेट स्कूल का है जहां सही स्कूल ड्रेस पहन कर नहीं आई तो एक बच्ची को लडके के टॉयलेट में खडे रहने की सजा दी गई। बताया जा रहा है कि स्कूल ड्रेस गीला होने के कारण से 11 साल की बच्ची सिविल ड्रेस में स्कूल आ गई थी। बच्ची के मुताबिक पीटी के दौरान टीचर ने जब उसे सिविल ड्रेस में देखा तो पकडक़र लडक़ों के टॉयलेट में खड़ा कर दिया।

बच्ची का कहना है कि सिविल ड्रेस में स्कूल आने की बात उसके माता-पिता ने स्कूल डायरी में भी लिखी थी लेकिन टीचर्स ने उसकी बातों को नजरंदाज कर दिया। इस हादसे के बाद पीडित बच्ची इतनी डर गई है कि उसने स्कूल जाने से इनकार कर दिया है। ज्ञात रहे कि बीते दिनों स्कूल में बच्चों के साथ होने वाली हैवानियत की खबरे चर्चा में है। बच्चों के लिए काम करने वाली एक संस्था ने स्कूल प्रशासन पर केस दर्ज करने की मांग की है।