जयपुर. राजस्थान में मानसून (Monsoon) सक्रिय है और इसके चलते प्रदेश के कई इलाकों में बारिश (Rain) का दौर जारी है. मौसम विभाग (Met Department) के मुताबिक सावन के पहले दिन सूबे के कई जिलों में भारी हो सकती है. इसको लेकर अलर्ट जारी की गई है. हालांकि बारिश के कारण लोगों को गर्मी से राहत भी मिली है. कई इलाकों में पारा 5 डिग्री सेल्सियस तक नीचे उतर आया है.

23 जिलों में मेघगर्जन की संभावना  

मौसम विभाग के पूर्वानुमान के मुताबिक सोमवार को प्रदेश के 23 जिलों में मेघ गर्जन के साथ हवाएं चल सकती हैं. इस दौरान कुछ जिलों में बारिश भी हो सकती है. मौसम विभाग ने अलवर, बांसवाड़ा, भीलवाड़ा, बूंदी, भरतपुर, चित्तौड़गढ़, धौलपुर, झालावाड़, जयपुर, झुंझुनू, डूंगरपुर, कोटा, प्रतापगढ़, राजसमंद, सिरोही, टोंक, उदयपुर, बीकानेर, बाड़मेर, श्री गंगानगर, जैसलमेर, जोधपुर में मौसम में बदलाव का पूर्वानुमान जारी किया है.

7 जिलों में हो सकती है मूसलाधार बारिश 

मौसम विभाग ने प्रदेश के 7 जिलों में भारी से भारी बारिश होने की चेतावनी जारी की है. अजमेर, भीलवाड़ा, बूंदी, टोंक, राजसमंद, चित्तौड़गढ़ और नागौर में सोमवार को भारी बारिश हो सकती है.

मौसम बदलने से गर्मी से मिली राहत

सूबे के अधिकांश हिस्सों में मानसून सक्रिय होने के कारण लोगों को गर्मी से राहत मिली है. कई इलाकों में पारा 5 डिग्री सेल्सियस तक लुढ़क गया है. रविवार को पूरे प्रदेश में जैसलमेर सबसे गर्म क्षेत्र रहा, जहां का तापमान 42 डिग्री सेल्सियस के पार दर्ज किया गया.

झीलों की नगरी राजस्थान के उदयपुर को इंद्र देव की मेहरबानी का इंतजार है. यहां लगातार मूसलाधार बारिश की जरूरत है, जिससे शहर की सभी झीलें लबालब होकर अपनी खूबसूरती को बरकरार रख सकें. रविवार को दोपहर बाद यहां अचानक तेज आंधी चली और मूसलाधार बारिश हुई. बारिश से लोगों को गर्मी और उमस से राहत मिली है. उदयपुर (Lake City Udaipur) में रविवार को दोपहर बाद आसमान में अचानक काले बादल छा गए. तेज हवाएं चलने लगीं और चली आंधी ने राहगीरों के लिए परेशानी खड़ी कर दी. इसके बाद पूरे शहर में बारिश शुरू हो गई.