नई दिल्ली। लोकसभा चुनावों को लेकर कांग्रेस की ओर से प्रियंका गांधी के रूप में खेले गए ट्रंप कार्ड के बाद आज प्रियंका गांधी वाड्रा पहली बार कांग्रेस दफ्तर पहुंची। प्रियंका ने यहां पहुंच कर अपने लिए निर्धारित किए गए कमरे में अपना पदभार ग्रहण किया। महासचिव बनने के बाद पहली बार कांग्रेस दफ्तर पहुंची प्रियंका ने कहा कि मैं बहुत खुश हूं कि राहुलजी ने मुझे यह जिम्मेदारी दी। वहीं रॉबर्ट वाड्रा के सवाल पर प्रियंका वाड्रा ने कहा कि पूरी दुनिया को पता है क्या हो रहा है? औपचारिक तौर पर पदभार ग्रहण करने के साथ ही प्रियंका ने मुलाकातों का सिलसिला भी शुरू कर दिया है।

कांग्रेस महासचिव प्रियंका वाड्रा के साथ ही आज ज्योतिरादित्य सिंधिया ने भी अपना पदभार संभाल लिया। कांग्रेस मुख्यालय में ज्योतिरादित्य सिंधिया ने विधिवत पूजा-पाठ करके अपना काम संभाला। ज्योतिरादित्य को पश्चिमी यूपी का प्रभार दिया गया है। खास बात ये है कि उनका और प्रियंका गांधी का दफ़्तर एक ही कमरे में होगा। प्रियंका गांधी को पूर्वी यूपी का प्रभारी महासचिव बनाया गया है। हालांकि, पहले उसी कमरे में सिर्फ प्रियंका गांधी वाड्रा का नेम प्लेट लगा था, लेकिन रातोंरात उसमें तब्दीली की गई और उसी कमरे के बाहर ज्योतिरादित्य सिंधिया की भी नेम प्लेट लगाई गई।

बहरहाल, अब प्रियंका ने अपना पदभार संभाल लिया है और संगठन में अपनी राजनीति​क शुरूआत कर दी है। बताया जा रहा है कि प्रियंका अपने सियासी दौरे की शुरुआत लखनऊ से करेंगी, जिसके तहत वे 11 फरवरी को लखनऊ जाएंगी। इसी दिन लखनऊ मुख्यालय में पदाधिकारियों और कार्यकर्ताओं के साथ बैठक भी करेंगी। इसके अलावा लखनऊ में रोड शो कर लोकसभा चुनाव का आगाज करेंगी। हालांकि अभी तक प्रियंका के कार्यक्रम की आधिकारिक पुष्टि नहीं हो पाई है।