कुआलालंपुर, कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी सिंगापुर में एक बातचीत के दौरान कहा है कि उन्होंने और उनकी बहन प्रियंका ने अपने पिता राजीव गांधी के हत्यारों को पूरी तरह से माफ कर दिया है। आपको बता दें कि राहुल गांधी के पिता और पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी की हत्या का आरोप श्रीलंका के आतंकी संगठन लिट्टे पर लगा था। तब प्रभाकरन लिट्टे चीफ था। राजीव की हत्या 1991 में हुई थी। राहुल ने अपने पिता के हत्यारों को माफ करने के सवाल पर कहा- हम कई सालों तक बहुत परेशान और दुखी रहे। हम बहुत गुस्सा भी थे, लेकिन फिर हमने किसी तरह...असल में पूरी तरह से उन्हें माफ कर दिया।

राहुल गांधी ने कहा कि जब आप यह महसूस करते हैं कि यह विचारों के टकराव के नतीजे में हुई घटनाएं थी तो आपको चीजें समझ में आती हैं। राहुल ने कहा कि जब उन्होंने टीवी पर प्रभाकरन की लाश देखी तो उनके मन में दो तरह के विचार आए। पहला- इस आदमी के साथ इस तरह का व्यवहार क्यों किया गया। दूसरा- मुझे उसके बच्चों पर दया आई, सहानुभूति हुई। राहुल ने कहा कि उन्होंने और उनकी बहन ने यह झेला है, हिंसा देखी है, इसलिए वे किसी भी सूरत में हिंसा को पसंद नहीं करते हैं। उन्होंने कहा, हम दोनों भाई-बहन किसी से नफरत नहीं कर पाते हैं। हम सबको पता था कि पापा और दादी की जान जा सकती है। अगर आप राजनीति में गलत ताकतों से टकराते हैं, किसी चीज के लिए खड़े होते हैं तो आपकी मौत तय है। यह साफ है।