मुरादाबाद:अंतरराष्ट्रीय विश्व हिन्दू परिषद के अध्यक्ष और फायर ब्रांड नेता प्रवीण तोगड़िया ने बुलन्दशहर की घटना पर बोलते हुए प्रदेश की योगी सरकार को घेरा है। तोगड़िया ने कहा कि वहां बड़ी संख्या में मुसलमान जमा थे, तो क्या पुलिस बल लगाकर गो हत्या रोकी नहीं जा सकती थी। और अगर गो हत्या नहीं होती तो क्या एक इंस्पेक्टर और गो रक्षक की जान जाने से नहीं बच जाती। इसलिए मुझे सन्देह हैं कि वहां जो हुआ है, गो हत्या को लेकर राजनीति पर ध्रुवीकरण शुरू हो गया।

मुरादाबाद एक निजी कार्यक्रम में भाग लेने के लिए पहुंचे डॉ. प्रवीण तोगड़िया ने कहा कि हालांकि यह ठीक है कि घटना के बाद 27 लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज हुआ है, उनकी गिरफ्तारी होगी, कोर्ट को निर्णय करना है। मेरा ये कहना कि आसपास के गांव वालों पर पुलिस अत्याचार क्यों कर रही है, क्या मुगलों का शासन आ गया है। अगर एक भी निर्दोष को परेशान किया जायेगा तो, हम आंदोलन को मजबर होंगे और पूर्व में मुगलों के शासन के समय हिन्दू डर से गांव छोड़कर भागते थे। आज भाजपा के शासन में अपने आप को बचाने के लिए भागना पड़ रहा है।

तोगड़िया ने दोनों लोगों की मौत की निदा करते हुए कहा कि जहां तक गो हत्या की बात है, तो वो सरकार ने होने दी और अब हिन्दुओं पर अत्याचार कर रहे हैं। वहीं हनुमानजी पर योगी द्वारा दिये गए बयान पर उन्होंने कहा कि इस बारे में मैं कुछ भी नही कहना चा​हता। राममन्दिर पर आरएसएस की वर्तमान भूमिका पर पूछे गए सवाल पर तोगड़िया ने कहा कि आरएसएस मेरा रक्त और प्राण रहा है, उसे मैंने अपने रक्त से सींचा हैं, दुःख होगा तो घर में व्यक्त करूंगा, सार्वजनिक नही करूंगा।