सिलिगुड़ी(पश्चिम बंगाल):पश्चिम बंगाल में रामनवमी पर एक बार फिर सियासत गर्मा गई है। रामनवमी के अवसर पर कोलकाता पुलिस ने विश्व हिंदू परिषत के कार्यकर्ताओं को बाइक रैली निकालने की इजाजत नहीं दी है। पुलिस ने रैली से ठीक पहले इजाजत देने से इनकार कर दिया। 

रैली की इजाजत पर रोक लगाने के बाद विहिप के कार्यकर्ताओं में भारी रोष है। पुलिस की रोक के बाद विहिप के सदस्यों ने राम की तस्वीर के साथ भगवे झंडे के साथ स्थानीय रैली निकालने की कोशिश की। जानकारी के अनुसार विहिप राम नवमी पर पश्चिम बंगाल में बड़े स्तर पर आयोजन करने वाला था। 

अक्सर पश्चिम बंगाल में सांप्रदायिक सौहार्द के बिगड़ने की खबरें सामने आती रहती हैं। त्योहारों के बीच सांप्रदायिक हिंसा की खबरें भी आम बात हैं। पिछले साल भी आसनसोल में रामनवमी के दिन भड़की सांप्रदायिक हिंसा बहुत चर्चा में रही थी। 

उस समय यह विवाद राम नवमी के जुलूस के दिन बजाए जा रहे गानों को लेकर हुआ था जिसके बाद दंगा भड़क गया था। पहले रामनवमी के जुलूस पर पत्थरबाजी हुई फिर एक गाड़ी को आग लगा दी गई थी। इस घटना के बाद आसनसोल में भड़का सांप्रदायिक हिंसा राज्यव्यापी हो गई थी।