नई दिल्ली:पीएम मोदी ने छोटे उद्यमियों को दिवाली से पहले एक बड़ी सौगात दी है। प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी ने कल शाम नई दिल्ली में सूक्ष्‍म, लघु और मध्‍यम उद्यम क्षेत्र के लिए सहयोग और संपर्क कार्यक्रम की शुरूआत की। इस क्षेत्र की मदद के लिए कई उपायों की घोषणा करते हुए मोदी ने कहा कि एक करोड़ रुपये तक के ऋण केवल 59 मिनट में मंजूर कर दिए जायेंगे।

इस मौके पर पीएम ने कहा कि 'आज की पहली घोषणा करने जा रहा हूं और वो है 59 मिनट लोन पोर्टल का देशव्‍यापी लांच करना। यानी अब जितनी देर में आप सुबह घर से आफिस पहुंचते हैं। या शाम को जितने समय आप अपना बही खाता मिलाने में समय लगाते हैं। उतने ही देर में आपको 1 करोड़ रूपये तक की लोन की सैंद्धातिक स्‍वीकृति मिल जाया करेगी।'

प्रधानमंत्री ने कहा कि वस्‍तु और सेवाकर के लिए पंजीकृत प्रत्‍येक सूक्ष्‍म, लघु और मध्‍यम उद्यम को नये ऋण या एक करोड़ रूपये तक के अतिरिक्‍त ऋण लेने पर ब्‍याज में दो प्रतिशत की छूट दी जायेगी। यह अब तय किया गया है कि जीएसटी पंजीकृत हर एमएसएमई को एक करोड़ रूपये तक के नए कर्ज या इनक्रिमेंटल लोन की रकम पर  ब्‍याज में 2 प्रतिशत की छूट दी जाएगी। अब जीएसटी से जुड़ना और टैक्‍स भरना आपकी ताकत बनेगा। आपको ब्‍याज में 2 प्रतिशत की छूट दिलवाएगा।

प्रधानमंत्री ने घोषणा की कि सरकार ने सूक्ष्‍म लघु और मध्‍यम उद्यम द्वारा निर्यात किए जाने वाले सामान पर निर्यात के पहले और बाद में ब्‍याज में छूट तीन प्रतिशत से बढ़ाकर पांच प्रतिशत कर दी है। निर्यातकों को प्री-शिपमेंट और पोस्‍ट शिपमैंट की अवधि में जो लोन मिलता है। उसकी ब्‍याज की दर में छूट को भी सरकार ने 3 प्रतिशत से बढ़ाकर 5 प्रतिशत करने का निर्णय किया है। मुझे उम्‍मीद है कि  इस कदम से एमएसएमई के एक्‍पोर्टरों का हिस्‍सा और बढ़ेगा।