लाइफस्टाइल डेस्क हाल ही में सेंट्रल पॉल्यूशन कंट्रोल बोर्ड ने गुड़गांव को देश का सबसे प्रदूषित शहर घोषित किया है। 62 शहरों में हवा की गुणवत्ता जांची गई। रविवार को यहां एयर क्वालिटी इंडेक्स 321 था, जो 'बहुत खराब' श्रेणी में आता है। एयर पाल्यूशन सिर्फ बाहर ही नहीं घर के अंदर की हवा में भी होता है। मनी प्लांट,एलो वेरा और स्नेक प्लांट जैसे कुछ पौधे ऐसे भी हैं हवा में मौजूद रसायनों को कम करने का काम करते हैं।

नासा की एक रिसर्च के अनुसार इंडोर प्लांट्स कार्बन डाइट ऑक्साइड को ऑक्सीजन में बदलने के साथ हवा में ऐसे रसायन जो कैंसर का कारण बनते हैं जैसे बेंजीन और फॉर्मेल्डिहाइड को प्यूरीफाय करते हैं।

आसपास 300-500 पौधे होना जरूरी

वैज्ञानिकों के अनुसार, एक व्यक्ति को हर घंटे 50 लीटर ऑक्सीजन की जरूरत होती है। एक पत्ती से 5 मिलीलीटर ऑक्सीजन प्रति घंटा रिलीज होती है। जरूरी ऑक्सीजन लेवल की पूर्ति के लिए एक कमरे में 10 हजार पत्तियां मौजूद होनी चाहिए। करीब 300-500 पौधों से जरूरी मात्रा में ऑक्सीजन मिल पाएगी। जानते हैं ऐसे ही पौधों के बारे में जो घर में ऑक्सीजन का लेवल बढ़ाने के लिए जाने जाते हैं।