अबु धाबी:पाकिस्तान और ऑस्ट्रेलिया के बीच दो टेस्ट मैचों की सीरीज के दूसरे टेस्ट में पाकिस्तान टीम को मजबूत स्थिति में पहुंचाने वाले कप्तान सरफराज अहमद ने एक अनोखी नीति अपनाई. पहले दिन अपनी टीम के संकट में पड़ जाने के बाद कप्तान सरफराज अहमद बल्लेबाजी करने आए थे. तब उनकी टीम के जल्दी ही  पांच विकेट गिर गए थे. सरफराज ने अपनी पारी में एक अनोखा स्टांस लिया और बढ़िया बल्लेबाजी करते हुए 94 रन की शानदार पारी खलते हुए टीम को संकट से उबार लिया. 

बल्लेबाजी में संभलने के बाद पाकिस्तान क्रिकेट टीम ने मैच के दूसरे दिन ऑस्ट्रेलिया को बैकफुट पर धकेल कर अपने आप को मजबूत स्थिति में पहुंचा दिया. मोहम्मद अब्बास (5 विकेट) की धारदार गेंदबाजी के दम पर पाकिस्तान ने दूसरे दिन ऑस्ट्रेलिया को पहली पारी में 145 रनों पर ही ढेर कर दिया और स्टम्प्स तक अपनी दूसरी पारी में दो विकेट खोकर 144 रन बनाकर 281 रनों की मजबूत बढ़त ले ली.

फखर जमां और सरफराज ने पारी को संभाला
पहले टेस्ट में जीत अपने हाथ से फिसल जाने के बाद पाकिस्तान ने दूसरे टेस्ट में टॉस जीतने के बाद बल्लेबाजी करने का फैसला लिया, लेकिन इस बार पाकिस्तानी बल्लेबाजी लड़खड़ा गई जब टीम ने केवल 57 के स्कोर पर 5 विकेट खो दिए. उसके बाद ओपनर फखर जमां के साथ कप्तान सरफराज ने टीम को उबारा और छठे विकेट के लिए 147 रनों की साझेदारी की.

सरफराज ने चौंकाया ऑस्ट्रेलियाई गेंदबाजों को
अपनी पारी के दौरान सरफराज ने एक अनोखा स्टांस अपनाया जिसे बल्लेबाज विशेषज्ञ आजमाने की सलाह नहीं देते हैं. लोगों ने सोशल मीडिया पर भी सरफराज के स्टांस की काफी चर्चा की. सरफराज ने नाथय लियोन को गेंदाबाजी के दौरान यह स्टांस खास तौर पर अपनाया जब उनके तीनों ही स्टंप्स पूरे और साफ तौर पर गेंदाबजो को आसानी से दिखाई दे रहे हैं. इस स्टांस के बाद भी सरफराज 94 रनों की पारी खेल गए.

दूसरे दिन ऑस्ट्रेलिया की दूसरी पारी भी लड़खड़ाई
ऑस्ट्रेलिया ने दूसरे दिन की शुरुआत दो विकेट के नुकसान पर 20 रनों के साथ की थी. टीम को पहला झटका मिचेल मार्श (13) के रूप में लगा जिन्हें यासिर शाह ने 36 के कुल स्कोर पर आउट किया. यहां से विकेट लगातार गिरते रहे और ऑस्ट्रेलिया पहली पारी में पाकिस्तान से 137 रन पीछे रह गई.

मिचेल स्टार्क ने पाकिस्तान को भी दूसरी पारी में अच्छी शुरुआत नहीं करने दी और 15 के कुल स्कोर पर मोहम्मद हफीज को पवेलियन भेज दिया. फखर जमां (66) ने एक बार फिर बल्ले का जोर दिखाया और 83 गेंदों की पारी में सात चौके लगाए. उन्होंने 54 रन पर नाबाद लौटने वाले अजहर अली के साथ 91 रनों की साझेदारी की. नाथन लॉयन ने जमां को 106 कुल स्कोर पर आउट किया. अली को हारिस सोहेल (17) का साथ मिला और दोनों ने मिलकर दिन का खेल खत्म होने तक 38 रन जोड़ लिए हैं. अली अपनी पारी में 119 गेंदों का सामना कर तीन चौके लगा चुके हैं. पहला टेस्ट मैच पाकिस्तान जीतते जीतते रह गया था और उसे ड्रॉ से संतोष करना पड़ा था.