सोल, संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद की ओर से लगाए गए ताजा प्रतिबंधों को दुष्टतापूर्ण बताते हुए उत्तर कोरिया ने अपने हथियार कार्यक्रम को और आगे बढ़ाने का संकल्प किया है। देश की सरकारी संवाद समिति केसीएनए की ओर से प्रकाशित उत्तर कोरिया के विदेश मंत्रालय के बयान में कहा गया है कि अमेरिका की ओर से लाए गए अवैध और दुष्टतापूर्ण प्रतिबंधों वाले प्रस्ताव को मंजूरी मिलना, डीपीआरके (उत्तर कोरिया) के लिए इसकी पुष्टि करने का और एक अवसर है कि उसके द्वारा चुना गया रास्ता सही है।

मंत्रालय ने बयान में कहा है कि डीपीआरके देश की सम्प्रभुता और अस्तित्व के अधिकार को सुरक्षित रखने की क्षमता बढ़ाने के अपने प्रयासों को दोगुना करेगा। प्योंगयोंग की ओर से किए गए छठे परमाणु परीक्षण के बाद उस पर लगाए गए ताजा प्रतिबंधों में उत्तर कोरिया को कपड़ा निर्यात करने और तेल उत्पादों की खेप भेजने पर रोक लगा दी गई है। अमेरिका की ओर से पेश प्रतिबंधों के प्रस्ताव को सोमवार को मंजूरी मिली थी।