मुंबई:देश के सरकारी स्कूलों में मिलने वाले खाने की गुणवत्ता और काम पर लगातार सवाल खड़े हो रहे हैं।ताजा घटनाक्रम में मुंबई के गोवंडी इलाके में एक म्यूनिसिपल स्कूल में 170 बच्चे फूड प्वाइजनिंग का शिकार हो गए हैं।जानकारी के मुताबिक शुक्रवार को स्कूल में बीएमसी की तरफ से एक मेडिकल कैंप लगाया गया था।

मेडिकल कैंप में बच्चों को खून बढ़ाने वाली फॉलिक एसिड की गोलियां दी गई थी।गोलियों को खाने के बाद ही बच्चों को उल्टी, सिरदर्द और बेचैनी सी होने लगी।बच्चों की खराब हालात को देखते हुए उन्हें तुरंत पास के राजावाड़ी अस्पताल में भर्ती कराया गया।अस्पताल में भर्ती कराने के तुरंत बाद ही डॉक्टरों ने एक बच्ची को मृत घोषित कर दिया।बच्ची का नाम चांदनी शेख बताया जा रहा है।  

अभिभावकों में दिखा रोष
म्यूनिसिपल स्कूल में बच्चों के फूड प्वाइजनिंग का शिकार होने के बाद अभिभावकों में रोष देखने को मिला है।बच्चों के बीमार होने की जानकारी मिलते ही मौके पर भारी संख्या में स्कूल के बाहर लोग इक्ट्ठा हो गए। अभिभावकों ने स्कूल और दवाई देने वाले डॉक्टरों के खिलाफ कार्रवाई की मांग की है।