ईटानगर:प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी ने आज अरूणाचल प्रदेश और असम में कई बुनियादी ढांचा विकास परियोजनाओं की सौगात दी। अरूणाचल प्रदेश की राजधानी ईटानगर में आयोजित समारोह में प्रधानमंत्री ने कहा कि केन्‍द्र ने पिछले वर्षों में पूर्वोत्तर राज्‍यों के विकास के लिए 44 हजार करोड़ रूपये दिए जो पिछली सरकारों के कार्यकाल के दौरान दी गई राशि के दुगुनी से भी अधिक है। 

इससे पहले, प्रधानमंत्री ने होलोंगी में नये हवाई अड्डे की आधारशिला रखकर निर्माण कार्य की शुरूआत की। इस हवाई अड्डे से पूर्वोत्तर में आर्थिक विकास को बढ़ावा मिलेगा और सामरिक दृष्टि से भी यह देश के लिए महत्‍वपूर्ण साबित होगा। प्रधानमंत्री ने दूरदर्शन के डीडी अरुणप्रभा चैनल का भी शुभारंभ किया। सप्‍ताह के सातों दिन और 24 घंटे प्रसारण करने वाला यह चैनल डीडी नार्थ ईस्‍ट के बाद पूर्वोत्तर के लिए प्रसारण करने वाला दूरदर्शन का दूसरा चैनल है।

प्रधानमंत्री ने अरुणाचल प्रदेश में भारतीय फिल्‍म और टेलीविजन संस्‍थान के स्‍थाई परिसर की आधारशिला भी रखी। प्रधानमंत्री ने गुवाहाटी के पास चंगसारी में कई विकास परियोजनाओं की आधारशिला रखी। इनमें गुवाहाटी शहर को उत्तरी गुवाहाटी से जोड़ने वाले ब्रहमपुत्र नदी पर एक हजार छह सौ मीटर लम्‍बे छह लेन के पुल के निर्माण की परियोजना भी शामिल है। प्रधानमंत्री ने कहा कि ब्रह्मपुत्र नदी पर पुल से उत्तर और दक्षिण गुवाहाटी के बीच की दूरी डेढ़ घंटे से घटकर 15 मिनट रह गई। करीब 2000 करोड़ की लागत से इस पुल के बन जाने के बाद गुवाहाटी के स्‍टेट कैपिटल रिजन मैदान की परेशानी भी कम होगी।

प्रधानमंत्री ने पूर्वोत्तर गैस ग्रिड की भी आधारशिला रखी। जिससे इस क्षेत्र में प्राकृतिक गैस की सुचारू सप्‍लाई सुनिश्चित की जा सकेगी और उद्योगों के विकास को भी बढ़ावा मिलेगा। मोदी ने कामरूप, कछार, हैलाकांडी और करीमगंज जिलों में शहरी गैस वितरण नेटवर्क की भी आधारशिला रखी। उन्‍होंने नुमालीगढ़ में एनआरएल बायो रिफाइनरी और बरौनी से गुवाहाटी के लिए बिहार और पश्चिम बंगाल होते हुए 729 किलोमीटर लम्‍बी गैस पाइप लाइन बिछाने के कार्य की आधारशिला रखी। इस अवसर पर प्रधानमंत्री ने कहा कि ये तमाम प्रोजेक्‍ट असम को ओएलैंड गैस का एक बड़ा हब बनाने वाले तो है ही, देश की अर्थव्‍यवस्‍था को भी नई ताकत देने वाला है।

बता दें कि प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी कल आंध्रप्रदेश में गुंटूर, तमिलनाडु में तिरूपुर और कर्नाटक में हुबली का दौरा करेंगे तथा वहां अनेक विकास परियोजनाओं का शुभारंभ करेंगे।