जयपुर.राज्य महिला आयोग में पहली बार आज एक प्रेमी जोड़ा विवाह हुआ। इस दौरान महिला आयोग के सभी सदस्य और लड़के-लड़की का परिवार भी मौजूद रहा। आयोग की 2 दिन चली समझाइश के बाद आखिर लड़की का परिवार भी शादी में शामिल होने के लिए मान गया। पूरे हिंदू रीति रिवाज के साथ ये विवाह करवाया गया।

- बता दें कि कुछ दिन पहले ये मामला सामने आया था जब ज्योति का एक लड़के से प्यार करना घरवालों को इतना नागवार गुजरा कि पिता और भाई ने उसे करंट के झटके दे डाले। इस पर भी मन नहीं भरा तो भाई ने उसके बाल काट दिए। इसके बाद परिजनों ने उसे कमरे में बंद कर दिया था। जिस पर आयोग ने स्वप्रेरित प्रसंज्ञान लिया था।
- 19 वर्षीय ज्योति की आपबीती सुनने के बाद आयोग ने उसके परिजनों को तलब किया था। आयोग की समझाइश के बाद परिजनों को अपनी गलती का अहसास हुआ और उन्होंने ज्योति की शादी को मंजूरी दे दी।
- इसके बाद आयोग ने लड़के मनीष और उसके परिजनों से बात की तो उन्होंने भी ज्योति को अपनाने की हामी भरी।
- इसी दौरान यह भी तय हुआ कि ज्योति और मनीष की शादी हिंदू रीति-रिवाज से होगी और महिला आयोग इस शादी को नगर निगम और कोर्ट में रजिस्टर्ड कराएगा।