नई दिल्ली टीम इंडिया के पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने 2017 के शुरू में ही कप्तान के पद से इस्तीफा दे दिया था. 2014 में टेस्ट क्रिकेट से संन्यास लेने के बाद धोनी वन-डे और टी-20 टीम की कमान संभाल रहे थे, लेकिन 2017 में अचानक उन्होंने इस जिम्मेदारी को भी छोड़ दिया। जब महेद्र सिंह धोनी ने कप्तानी छोड़ने का फैसला सुनाया तो हर किसी के मन में यही सवाल था कि आखिर वह ऐसा क्यों कर रहे हैं।क्या कोई दबाव है। जिसने धोनी को कप्तानी छोड़ने पर मजबूर किया है।हालांकि उस वक्त धोनी ने इन सवालों पर यह कहते हुए चु्प्पी साध ली थी कि यह उनका निजी फैसला है।लेकिन अब तकरीबन दो साल बाद उन्होंने इस राज से पर्दा उठा दिया है। 

रांची के बिरसा मुंडा एयरपोर्ट पर केंद्रीय औद्योगिक सुरक्षा बल द्वारा आयोजित एक मोटिवेशनल कार्यक्रम के दौरान महेंद्र सिंह धोनी ने बताया कि आखिरी उन्होंने कप्तानी क्यों और किसके लिए छोड़ी थी।

महेंद्र सिंह धोनी ने बताया कि उन्होंने कप्तानी विराट कोहली  के लिए छोड़ी थी। उन्होंने कहा मैंने कप्तानी इसलिए छोड़ी थी क्योंकि आईसीसी वर्ल्ड कप 2019 के लिए मैं नए कप्तान को तैयार करना चाहता था। बता दें कि आईसीसी वर्ल्ड कप 2019 के लिए तैयार होने वाले यह नए कप्तान विराट कोहली थे।

धोनी ने कहा कि 2019 के वर्ल्ड कप के लिए नए कप्तान को तैयार करने के लिए वक्त की जरूरत थी, ताकि वह अपनी टीम तैयार कर सके और इसीलिए मैंने कप्तानी छोड़ने का फैसला किया।धोनी ने इस दौरान यह भी कहा कि उस वक्त कप्तानी छोड़ने का फैसला सही था और सही समय पर लिया गया था।

भारत को तीन आईसीसी ट्रॉफी जिताने वाले टीम इंडिया के पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने कहा कि, 'किसी भी नए कप्तान के लिए बिना वक्त दिए एक मजबूत टीम बनाना बेहद मुश्किल होता है. ऐसे में मेरा उस वक्त कप्तानी छोड़ने का फैसला एकदम सही था।

बता दें कि झारखंड के रांची में जन्मे धोनी की कप्तानी में भारत ने 1983 के 28 साल बाद 2011 में आईसीसी क्रिकेट वर्ल्ड कप जीता था. धोनी की कप्तानी में ही भारत ने 2007 आईसीसी वर्ल्ड 20-20, 2007-08 कॉमनवेल्थ बैंक सीरीज, 2007-2008 में सीबी सीरीज और बॉर्डर-गावस्कर ट्रॉफी जैसे अहम मुकाबले जीते थे.

संन्यास की अटकलों पर दिया ये जवाब
महेंद्र सिंह धोनी एक मोटिवेशनल कार्यक्रम को लेकर सीआईएसएफ सेंटर पहुंचे। जहां उन्होंने अपने संन्यास की खबरों को लेकर भी बयान दिया।उन्होंने संन्यास की अटकलों को सिरे से खारिज करते हुए कहा करियर में वक्त ऐसा आता है। जहां उतार और चढ़ाव लगे रहते हैं।लेकिन कोशिश हमेशा फॉर्म में वापसी करने की होती है.