लंदन:इंग्लैंड के कप्तान जो रूट ने भारत के खिलाफ दूसरे टेस्ट क्रिकेट मैच में शुक्रवार को लॉर्ड्स के मैदान पर टॉस जीतकर पहले फील्डिंग का फैसला किया। टीम इंडिया ने एजबेस्टन में पहला टेस्ट मैच 31 रन से गंवाने वाली टीम में दो बदलाव किए हैं। टीम इंडिया ने सलामी बल्लेबाज शिखर धवन की जगह चेतेश्वर पुजारा और तेज गेंदबाज उमेश यादव के स्थान पर बाएं हाथ के कलाई के स्पिनर कुलदीप यादव को अंतिम एकादश में रखा है।शिखर धवन इस दौरे पर खासकर लाल गेंद से काफी नाकाम रहे थे। पहले टेस्ट  में संघर्ष करते हुए 26 और 13 रन बनाए और उससे पहले अभ्यास मैच में एसेक्स के खिलाफ अभ्यास मैच की दोनों पारियों में शून्य पर ही आउट हो गए थे. 2014 की सीरीज में भी शिखर धवन सारे पांच टेस्ट नहीं खेल सके थे।तीन टेस्ट मैच के बाद उन्हें ड्रॉप कर दिया गया था।

इस साल दक्षिण अफ्रीका के दौरे के दौरान रोहित शर्मा को अजिंक्य रहाणे की जगह तरजीह दी गई थी।अफ्रीका में रोहित शर्मा पहले दो टेस्ट मैचों में बुरी तरह फ्लॉप रहे थे। शायद इसी का नतीजा है कि उन्हें इंग्लैंड के खिलाफ 5 मैचों की टेस्ट सीरीज के पहले तीन मैचों के लिए टीम में जगह नहीं मिल पाई है। ऐसे में  पहले प्रैक्टिस मैच और फिर पहले टेस्ट मैच में बुरी तरह असफल रहने के बाद शिखर धवन को भी लॉर्ड्स टेस्ट में प्लेइंग इलेवन में जगह नहीं मिल पाई है।हालांकि चेतेश्वर पुजारा को पहले टेस्ट मैच में प्लेइंग इलेवन में शामिल नहीं किए जाने पर कप्तान विराट कोहली और टीम मैनेजमेंट को काफी आलोचना का सामना करना पड़ा था।

शिखर एशियाई पिचों के बल्लेबाज रह गए हैं
शिखर धवन एक आक्रामक और लगातार स्ट्रोक खेलने वाले खिलाड़ी माने जाते हैं।भारतीय टीम के अधिकतर बल्लेबाजों पर यह आरोप लगते हैं कि वे केवल एशियाई पिचों के बल्लेबाज हैं।इसके अलावा वे अब केवल वनडे और टी-20 के बल्लेबाज ही माने जाने लगे हैं।कप्तान विराट कोहली के पहले टेस्ट में चेतेश्वर पुजारा को न खिलाने के फैसले का भी खासा विरोध हुआ था।हालांकि शिखर धवन की तरह चेतेश्वर पुजारा भी एसेक्स के खिलाफ अभ्यास मैच में सफल नहीं हुए थे। पहली पारी में पुजारा एक ही रन और दूसरी पारी में 23 रन बनाकर आउट हो गए थे।

इंग्लैंड की तरफ से ओली पोप टेस्ट क्रिकेट में पदार्पण किया है। उन्हें डेविड मलान के स्थान पर लिया गया है।अदालती कार्रवाई के कारण टीम से बाहर होने वाले ऑलराउंडर बेन स्टोक्स की जगह क्रिस वोक्स को टीम में रखा गया है. बता दें कि मैच का पहला दिन बारिश की भेंट चढ़ गया था। एजबेस्टन में खेले गए पहले मैच में मेजबान टीम ने भारत को 31 रनों से मात दी थी। इस मैच में भारत की कोशिश जीत हासिल करते हुए पांच मैचों की टेस्ट सीरीज में 1-1 से बराबरी करने की होगी।

टीम : 
भारत
 : विराट कोहली (कप्तान), मुरली विजय, चेतेश्वर पुजारा, लोकेश राहुल, अजिंक्य रहाणे, दिनेश कार्तिक, हार्दिक पांड्या, कुलदीप यादव, मोहम्मद शमी, रविचंद्रन अश्विन और ईशांत शर्मा।

इंग्लैंड : जोए रूट (कप्तान), जेम्स एंडरसन, जॉनी बेयरस्टो (विकेटकीपर), स्टुअर्ट ब्रॉड, जोस बटलर, एलिस्टर कुक, सैम कुरैन, कीटन जेनिंग्स, ओली पोप, आदिल राशिद और क्रिस वोक्स।