सवाई माधोपुर। उपखंड मुख्यालय बौंली के ग्राम बृन्दावल में बहुचर्चित लछमा देवी हत्याकांड का मुख्य आरोपी काल्या उर्फ रामनिवास मोग्या निवासी मालपुरा टोंक को बौंली थाना पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। 
जानकारी के अनुसार वर्ष 2014 में ग्राम बृन्दावल में लछमा देवी के हाथ-पैर व गर्दन काटकर शव खेतों में फेंक दिया गया था। इसके बाद गुर्जर नेता कर्नल किरोडी बैंसला सहित अन्य जनप्रतिनिधि और ग्रामीणो ने जमकर प्रदर्शन किया था। थानाधिकारी चन्द्रप्रकाश चौधरी के मुताबिक गहने चुराने वाली मोग्या गैंग ने इस घटना को अंजाम दिया था। इस गिरोह द्वारा हाथ-पैर काटकर गहने लूटने के कई मामले सामने आए हैं। चौधरी के मुताबिक मुख्य आरोपी काल्या उर्फ रामनिवास मोग्या को प्रोडक्शन वारंट पर टोंक से गिरफ्तार किया गया है। मामले में दो आरोपी अभी भी बौंली थाना पुलिस की गिरफ्त से दूर है, जिन्हें पुलिस तलाश रही है। बौंली थाना पुलिस ने बताया कि आरोपी को पूछताछ के बाद न्यायालय में पेश किया जाएगा।