नई दिल्ली: रूस के राष्ट्रपति ब्लादिमीर पुतिन इन दिनों भारत के दौरे पर हैं। उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ भारत में हजारों करोड़ रुपए की कई डील को पूरा किया। पुतिन को दुनिया के ताकतवर लीडर्स में गिना जाता है। इसके साथ ही वह अपनी रंगमिजाजी और लग्जरी लाइफस्‍टाइल को लेकर भी इंटरनलेशल मीडिया में छाए रहते हैं। हालांकि आमतौर पर रूस की मीडिया पुतिन की निजी जिंदगी का जिक्र नहीं करना चाहती है। यही वजह है कि उनके बारे में लोग ज्‍यादा कुछ नहीं जान पाते हैं। आज हम आपको इस रिपोर्ट के जरिए रूस के राष्‍ट्रपति के बारे में कुछ दिलचस्‍प बातें बताने जा रहे हैं।   

 रॉबिनहुड से जेम्स बांड तक की है छवि

पुतिन की छवि रूस में रॉबिन हुड से लेकर जेम्‍स बांड तक की है। लेकिन बहुत कम लोगों को पता है कि राष्‍ट्रपति और प्रधानमंत्री बनने से पहले पुतिन रूस की इंटेलीजेंस एजेंसी केजीबी के एजेंट थे। पुतिन को खतरनाक स्टंट के लिए भी जाना जाता है। अगस्त 2010 में पुतिन ने वेस्टर्न रशिया में लगी आग से सैकड़ों लोगों को बाहर निकाला था। उन्होंने विमान से आग बुझाने का काम भी किया।

कभी चूहों को पकड़ने का करते थे काम

बतौर जासूस कैरियर की शुरुआत करने वाले व्लादिमीर पुतिन का जन्म एक गरीब ज्‍वाइंट फैमिली में हुआ था। पुतिन का परिवार सेंट पीट्सबर्ग के एक अपार्टमेंट के ब्‍लॉक में तीन और परिवारों के साथ रहता था। अपनी बायोग्राफी में पुतिन ने लिखा है कि बचपन में वह गरीबी के कारण लोगों के घरों में जाकर चूहे पकड़ते थे। इसके एवज में उन्‍हें पैसे भी मिलते थे। गरीबी में भी पुतिन ने पढ़ाई जारी रखी और बड़े होकर जासूस बन गए।

मार्शल आर्ट में भी हैं माहिर  

पुतिन रूसी मार्शल आर्ट सांबो के मास्‍टर हैं। पुतिन ने अपनी बायोग्राफी में बताया है कि जब वे 18 साल के थे तो उन्‍होंने जूडो सीखना शुरू किया था। इस फैसले के बाद पुतिन की मां ने उनसे बोलना छोड़ दिया था। पुतिन की आत्‍मकथा के मुताबिक मां की नाराजगी की वजह से पुतिन के कोच उनके घर गए और मां को समझाया।

पुतिन को मिली थी लॉटरी की कार

पुतिन को पहली कार तब मिली जब वह यूनिवर्सिटी में पढ़ाई कर रहे थे। दिलचस्‍प बात यह है कि उनकी मां ने Zaporozhets कार लॉटरी में जीती थी। बहुत कम लोग जाते हैं कि पुतिन के नाना रूस के पूर्व राष्‍ट्रपति लेनिन के यहां कुक का काम करते थे

नहीं बोल पाते अंग्रेजी  

पुतिन को जर्मन बोलने में महारत हासिल है, लेकिन उन्हें अंग्रेजी से घबराहट होती है। पुतिन मानते हैं कि अंग्रेजी में बात करने को लेकर उन्‍हें बहुत ही घबराहट होती है। एक बार उन्होंने खुद इंटरव्‍यू में कहा थे कि वे सबके सामने अंग्रेजी में बात नहीं कर सकते हैं।

30 साल बाद तलाक

पुतिन ने ल्‍यूडमिला से 1983 में शादी की और लगभग 30 साल के लंबे सफर के बाद दोनों का तलाक 2014 में हो गया। दोनों की मुलाकात लेनिनग्राद में हुई थी। हालांकि पिछले कुछ सालों में 64 साल के पुतिन और देश की जिमनास्‍ट एलीना के बीच अफेयर ने भी सुर्खियां बटोरी हैं।