जीवन मंत्र डेस्क, एक किंडरगार्टन शिक्षक ने अपनी क्लास में एक खेल खेलने का फैसला किया। उस शिक्षक ने सभी बच्चे को एक प्लास्टिक बैग में कुछ आलू लाने के लिए कहा। शिक्षक ने कहा कि प्रत्येक आलू को उस व्यक्ति का नाम दिया जाएगा जिसे वह बच्चा नफरत करता है। वहीं आलू की संख्या उसपर निर्भर करेगी जितने लोगों से आप नफरत करते है।

कुछ बच्चे 2 आलू, कुछ 3 जबकि कुछ 5 आलू अपने बैग में भर के ले आए। शिक्षक ने बच्चों से कहा कि ये प्लास्टिक बैग आपको अक सप्ताह तक उठ के लाना होगा। कुछ दिन बीत जाने के बाद बच्चे शिकायत करने लगे कि उन्हें सड़े आलू की गंध आने लगी है। वहीं जिन बच्चों के बैग में 5 आलू थे वे भारी बैग होने की शिकायत करने लगे। आखिरकार एक सप्ताह खत्म हो गया। बच्चो बड़े खुश थे कि उन्हें अब ये बैग नहीं उठाना होगा।

तभी शिक्षक ने पूछा "एक सप्ताह आलू ले जाने के दौरान आपको कैसा महसूस हुआ?" बच्चों ने बड़ी निराशा से कहा हमे बिल्कुल अच्छा नहीं लगा। बैग काफी भारी था। वहीं गंदी बदबू भी आती थी। इस बात पर शिक्षक ने कहा इसी प्रकार जब आप अपने दिल में किसी के लिए नफरत रखते तो ये आपको इसी तरह दूषित कर देगी। आप जहां भी जाते हैं वहां आप इसे अपने साथ पाएंगे। यदि आप सिर्फ एक सप्ताह के लिए सड़ा हुआ आलू की गंध बर्दाश्त नहीं कर सकते, तो क्या आप कल्पना कर सकते हैं कि आप जीवन में नफरत की बदबू कब तक बर्दाश्त करेंगे?