झुंझुनूं, पशु क्रूरता अधिनियम के खिलाफ आज झुंझुनूं में पशुओं का व्यापार करने वाले लोग भी सड़कों पर उतरे। किसान कर्फ्यू के समर्थन में झुंझुनूं शहर के शिक्षक भवन से लेकर मुख्य मार्गों से होते हुए कलेक्ट्रेट तक विरोध रैली निकाली गई। जिसमें सरकार के खिलाफ नारेबाजी की। रैली का नेतृत्व कामरेड फूलचंद बर्बर तथा गजराज कटेवा ने की। इस मौके पर कलेक्ट्रेट पर पशु क्रूरता अधिनियम के कागजों की होली भी जलाई गई। वक्ताओं ने कहा कि जिस तरह सरकार ने भूमि अधिग्रहण कानून को वापिस लिया। वैसे ही सरकार को पशु क्रूरता अधिनियम वापिस लेना पड़ेगा। जब तक यह अधिनियम वापिस नहीं लिया जाएगा। आंदोलन जारी रहेगा। साथ ही कल दिल्ली में होने वाले सभी किसान संगठनों की बैठक में आंदोलन की अगली रणनीति बनाई जाएगी।