जैसलमेर:कोरोना वायरस (COVID-19) के डर से जैसलमेर जिले के CRPF के सब- इंस्पेक्टर ने खुद को सर्विस राइफल से गोली से उड़ा लिया. मृतक के पास से सुसाइड नोट (Suicide note) हुआ बरामद हुआ है. सुसाइड नोट में लिखा है कि मेरे शव को हाथ नहीं लगाना. डर है कि कहीं मुझे कोरोना तो नहीं. मृतक सब इंस्पेक्टर फतेह सिंह जैसलमेर के चांधन कस्बे के पास सगरा गांव के रहने वाले थे. घटना की जम्मू-कश्मीर के अंनतनाग जिले में हुई है. अनंतनाग जिले के मट्टन इलाके में तैनात थे जानकारी के अनुसार घटना मंगलवार की बताई जा रही है. फतेह सिंह जम्मू-कश्मीर में आतंकवाद से प्रभावित अनंतनाग जिले के मट्टन इलाके में तैनात थे.

सीआरपीएफ की 96वीं बटालियन के सब इंसपेक्टर फतेह सिंह के मन में कोरोना ग्रसित होने की भावना घर कर गई थी. उसके बाद मंगलवार को सिंह ने सर्विस राइफल से खुद को गोली मार ली, जिससे उनकी मौत हो गई. नेगटिव आई कोरोना की जांच रिपोर्ट पुलिस पूरे मामले की जांच कर रही है. कोरोना की जांच के लिए उनका सेम्पल  लिया गया, लेकिन जांच रिपोर्ट नगेटिव आई बताई जा रही है. शव को हवाई जहाज से जैसलमेर लाया जाएगा. फतेह सिंह अनंतनाग जिले के मट्टन इलाके में आतंरिक सुरक्षा की ड्यूटी में तैनात थे.

सिंह के आत्महत्या किए जाने के बाद स्थानीय पुलिस को इस बारे में सूचना दी गई. राजस्थान से जुड़ा यह संभवतया पहला मामला है उल्लेखनीय है कि कोरोना के डर से आत्महत्या की खबरें पहले भी आई हैं. लेकिन राजस्थान से जुड़ा यह संभवतया पहला मामला सामने आया है. राजस्थान देश में कोरोना वायरस का बड़ा हॉट-स्पॉट बना हुआ है. जैसलमेर जिले में भी अब तक 40 पॉजिटिव केस सामने आ चुके हैं. पश्चिमी राजस्थान में जोधपुर प्रदेश का दूसरा बड़ा हॉट-स्पॉट है. जोधपुर में बीएसएफ के कई जवान कोरोना संक्रमित पाए गए हैं.