जयपुर: कांवटिया अस्पताल में रेजीडेंट से कथित मारपीट के बाद जयपुर में जारी रेजीडेंट की हड़ताल आज दूसरे दिन भी जारी रही. कांवटिया अस्पताल अधीक्षक को हटाने की मांग पर अड़े रेजीडेंट रहे, करीब 1500 से अधिक रेजीडेंट हड़ताल ने कर रखी है. जबकि डेढ़ सौ से अधिक डॉक्टरो का MCI निरीक्षण के चलते तबादला हो चुका है, जिसके चलते SMS समेत सभी बड़े अस्पतालों में सुबह से ही मरीजों को दिक्कतों का सामना करना पड़ा. 

बात करें एसएमएस अस्पताल के ओपीडी की तो वहां अधिकांश कुर्सियां खाली नजर आई. जबकि बाहर सैंकड़ों मरीज धरती का भगवान कहे जाने वाले चिकित्सकों के इंतजार में रहे. कमोबेश ऐसी ही हालत राजधानी के दूसरे बड़े अस्पतालों में है. प्रशासन के वैकल्पिक इंतजाम के दावे पूरी तरह नाकाफी नज़र आ रहे हैं.