जयपुर, रामगंज में शुक्रवार की रात फैले उपद्रव के बाद क्षेत्र में आज भी कर्फ्यू लागू है, हालांकि आम दिनों की तरह पूरे इलाके में शांति का माहौल है लेकिन सुरक्षा के मद्देनजर पुलिस ने अभी भी कर्फ्यू लगा रखा है और इंटरनेट सेवा भी बंद कर रखी है। हालांकि पुलिस ने सोमवार को कर्फ्यू में दो घंटे की ढील दी थी। चार थाना इलाकों रामगंज, सुभाष चैक, गलता गेट और माणक चैक में सोमवार को ढील मिलते ही लोग घरों से ऐसे बाहर निकले जैसे कैद से निकले हों। मंगलवार को भी चारों थाना क्षेत्रों में कर्फ्यू रहेगा। 14 थाना इलाकों में इंटरनेट बंद रहेगा। हालांकि आज कर्फ्यूग्रस्त इलाकों में ढील का समय बढ़ाया जा सकता है।

दंगे के दौरान मारे गए आदिल को सोमवार को पुलिस सुरक्षा के बीच सुपर्द ए खाक कर दिया गया। उधर दंगो के दौरान एक व्यक्ति की और मौत हुई है लेकिन उसका खुलासा सोमवार को हो पाया है। इन दंगों के दौरान जो व्यक्ति लापता हुआ था उस व्यक्ति की पहचान भरत के रूप में हुई है। हालांकि अभी पोस्टमार्टम रिपोर्ट में ही यह साफ हो पाएगा की इस व्यक्ति की मौत कैसे हुई है। पुलिस की माने तो इस लापता व्यक्ति की डेड बाॅडी उन्हें दंगों के दसरे दिन चैपड़ के पास मिली थी, लेकिन उसके शरीर पर किसी तरफ के मारपीट और गोली लगने के निशान नहीं है। भरत ब्रहम्पुरी थाना क्षेत्र का रहने वाला था और अपनी मां के साथ किराए से रहता था, वह उसके परिवार में इकलौता था, परिवार ने सरकार से मुआवजे की मांग की है।