जयपुर. राजस्थान में आज से अगले 2 दिनों तक पुलिस (Police) की कड़ी परीक्षा है. आज से प्रदेशभर में सैंकड़ों परीक्षा केन्द्रों पर इस साल की सबसे बड़ी 'कांस्टेबल भर्ती परीक्षा' (Constable Recruitment Exam) शुरू हो गई है. परीक्षा के लिये सुरक्षा-व्यवस्था के कड़े इंतजाम किये गये हैं. नकल रोकने के लिये कुछ परीक्षा केन्द्रों के आसपास इंटरनेट सेवायें बंद की गई हैं. आज से शुरू हुई यह परीक्षा 8 नवंबर तक चलेगी. इस परीक्षा में 17 लाख से अधिक अभ्यर्थी शामिल हो रहे हैं. लगातार तीन दिन तक परीक्षा प्रतिदिन दो सत्रों (Two seasons) में आयोजित की जायेगी.
राजस्थान पुलिस कांस्टेबल के 5438 पदों की इस भर्ती के लिए 17 लाख 60 हजार अभ्यर्थियों की परीक्षा ली जायेगी. राज्यभर में इसके लिये 581 सेन्टर्स बनाए गए हैं. इन सेन्टर्स पर एक दिन में दो पारियों में सुबह 9 से 11 और दोपहर 3 बजे से लेकर शाम 5 बजे तक लिखित परीक्षा आयोजित की जायेगी. सुरक्षा कारणों से अभ्यर्थियों को परीक्षा केन्द्रों पर दो घंटे पहले प्रवेश दिया गया है. परीक्षा से आधे घंटे पहले एंट्री बंद कर दी गई. पूरी परीक्षा पर निगरानी रखने के लिये पुलिस हैडक्वार्टर में कंट्रोल रूम बनाया गया है. परीक्षा सेन्टर्स पर स्ट्रांग रूम बनाने के साथ ही उन पर सीसीटीवी कैमरों से नजर रखी जा रही है.


कोविड गाइडलाइन के साथ हो रही है परीक्षा
परीक्षा केन्द्रों पर कोविड-19 गाइडलाइन का भी पूरा पालन किया जा रहा है. परीक्षार्थियों के लिये मास्क और थर्मल स्केनिंग अनिवार्यता रखी गई है. परीक्षार्थियों के लिये सेनेटाइजर की भी व्यवस्था की गई है. कोरोना पॉजिटिव परीक्षार्थियों को अलग से बिठाने की व्यवस्था की गई है. सुरक्षा के मद्देनजर अभ्यर्थी के दोनों हाथों के थंब इंप्रेशन लिए जा रहे हैं. इनमें बाएं हाथ के अंगुठे का मशीन के जरिए और दाएं हाथ के अंगुठे का फिजीकल इंप्रेशन लिया जा गया है.

RPS अधिकरी निरंतर परीक्षा केंद्रों का औचक निरीक्षण करेंगे
पुलिस महानिदेशक एमएल लाठर ने परीक्षा को लेकर प्रदेश के सभी रेंज आईजी, जिला एसपी, कमिश्नर और उपायुक्तों को विशेष निर्देश दिये हैं. परीक्षा पर नज़र रखने के लिए स्पेशल फ्लाइंग स्क्वायड्स गठित की गई है. RPS अधिकरी निरंतर परीक्षा केंद्रों का औचक निरीक्षण करेंगे. परीक्षा केंद्रों में अधीनस्थ स्टाफ का प्रवेश निषिद्ध किया गया है.