जयपुर:कोरोना संकट के कारण लागू लॉकडाउन का चौथा चरण (Lockdown 4.0) देश में शुरू हो चुका है. हालांकि कुछ रियायतों और कुछ शर्तों के साथ बाजार में जरूरत का सामान खरीदने की छूट दी गई है. इस दौरान डोमेस्टिक और इंटरनेशनल पैसैंजर उड़ाने बंद रहेगी. लेकिन मिशन वंदे भारत लगातार चल रहा है. जानकारी मिली है कि अब 21 मई की देर रात से जयपुर एयरपोर्ट (Jaipur Airport) पर भी विदेशों में फंसे राजस्थानियों के लौटने का सिलसिला शुरू हो जाएगा. इसको लेकर एयरपोर्ट पर विस्तार से बैठक की गई. आरवीपीएनएल के सीएमडी दिनेश कुमार की अध्यक्षता में हुई बैठक में कई महत्वपूर्ण बातों पर चर्चा हुयी है. इस बैठक के दौरान राज्य सरकार और एयरपोर्ट के अधिकारी मौजूद थे. जयपुर एयरपोर्ट पर इससे संबंधित जरूरी तैयारियां जारी है.

यात्रियों के आगमन के बाद होगी थर्मल स्क्रीनिंग
विदेशों से आने वाले राजस्थानियों के आगमन के दौरान की जरूरी इंतजाम किये जाएंगे. एयरपोर्ट पर पहुंचने के बाद सभी यात्रियों की थर्मल स्क्रीनिंग होगी. उसके बाद 20-20 के ग्रुप में यात्रियों को बिठाकर मेडिकल चेकअप किया जायेगा. इस दौरान कोरोना का लक्षण जिन यात्रियों में नहीं मिलेगा उनका इमिग्रेशन क्लीयरेंस कराया जाएगा. इसके अलावा सीआईएसएफ द्वारा नियुक्त अधिकारी सभी यात्रियों को लगेज मुहैया करवाएंगे. एयरपोर्ट पर कस्टम क्लीयरेंस के बाद यात्रियों को राज्य पुलिस के अधिकारियों को सौंपा जायेगा.

राज्य पुलिस ले जायेगी क्वारंटाइन सेंटर या होटल
जानकारी मिली है कि राज्य पुलिस के अधिकारी वापस लौटने वाले यात्रियों को क्वॉरेंटाइन सेंटर या होटल लेकर जाएंगे. इन सभी यात्रियों के रुकने के लिये स्टैंडर्ड, मीडियम और हाई श्रेणी के होटल चुने गए हैं. यहां वो वापस लौटने के बाद क्वारंटाइन में रहेंगे.

21 मई की रात से वापसी का सिलसिला होगा शुरू
विदेशों में फंसे राजस्थानियों का 21 मई की रात से आने का सिलसिला शुरू होगा. राजस्थान लौटने वालों में ज्यादतर छात्र है और 12 फ्लाइट्स के ज़रिए ये जयपुर लौटेंगे. ये सभी फ्लाइट्स विदेश के डेस्टिनेशन से पहले दिल्ली आएगी और दिल्ली से जयपुर पहुंचेगी. एयरपोर्ट प्रशासन ने कोरोना की गाईडलाइन्स के तहत पूरी तैयारी कर ली है और अब 21 से 01 जून के बीच सभी 12 फ्लाइट्स जयपुर पहुंचनी शुरू हो जाएगी.