रोम : आव्रजकों को एक चार्टर्ड विमान से इटली भेजने की जर्मनी की योजना संबंधी खबरें आने के बाद इटली के धुर दक्षिणपंथी गृहमंत्री मैटियो साल्विनी ने देश के हवाई अड्डे बंद करने की धमकी दी है. ऐसी खबरें हैं कि जर्मनी ऐसे आव्रजकों को चार्टर्ड विमानों से इटली भेजने की योजना बना रहा है जिन्हें उसने शरण नहीं दी है.

साल्विनी ने रविवार को ट्वीट किया, ‘‘यदि बर्लिन या ब्रसेल्स में कोई गैर-अधिकृत चार्टर्ड विमानों के जरिए दर्जनों आव्रजकों को इटली भेजने की सोच रहा है तो उन्हें पता होना चाहिए कि इसके लिए हवाई-अड्डे उपलब्ध नहीं हैं और ना ही कोई होगा.’’ 

आव्रजकों की बचाव नौकाओं को अपने बंदरगाहों पर जगह नहीं देने संबंधी इटली के कुछ ही महीने पुराने फैसले का हवाला देते हुए उन्होंने कहा, ‘‘हम हवाई-अड्डे भी वैसे ही बंद कर देंगे, जैसे हमने बंदरगाह बंद किए हैं.’’ 

गौरतलब है कि जर्मन संवाद समिति डीपीए ने रविवार को अपनी खबर में कहा है कि बर्लिन ऐसे आव्रजकों को चार्टर्ड विमानों से वापस इटली भेजेगा जिन्हें उसने शरण नहीं दी है.

एजेंसी की खबर के अनुसार, आव्रजकों को लेकर जाने वाला पहला चार्टर्ड विमान सोमवार को रवाना होना है और अगला विमान 17 अक्टूबर को रवाना होगा. आव्रजकों में ज्यादातर नाइजीरियाई हैं जिन्होंने इटली के रास्ते यूरोपीय संघ में प्रवेश किया है.

इटली के अखबार ‘ला रिपब्लिका’ ने शनिवार को अपनी खबर में लिखा, ‘‘जर्मनी का आव्रजक कार्यालय शरण मांगने वालों को चिट्ठियां भेज रहा है और तथाकथित डबलिन नियमों के तहत उनकी तुरंत इटली वापसी की चेतावनी दे रहा है.’’ डबलिन नियमों के तहत आव्रजक उस देश की जिम्मेदारी हैं जहां वह सबसे पहले पहुंचे थे. हालांकि, जर्मनी के गृह मंत्रालय ने रविवार को कहा कि आने वाले दिनों में आव्रजकों को इटली भेजने की उसकी कोई योजना नहीं है.