जयपुर, शुक्रवार को गणेश चतुर्थी का शुभ दिन था। सब लोग सुबह से ही गणेश भगवान की भक्ति में लीन थे। तभी अचानक आसमान से राहत की बूंदे बनकर गिरी बारिश। ऐसा लग रहा था कि मानों इन्द्र देव ने भगवान गणेश के आगमन का स्वागत किया हो। कुछ ऐसा ही नजारा था राजधानी जयपुर में शुक्रवार सुबह गणेश चतुर्थी के दिन।

शुक्रवार को अलसुबह गणपति के दर्शनों के लिए लगी श्रद्धालुओं की लंबी कतार। सूरज के निकलने से पहले ही श्रद्धालू प्रथमपूज्य गजानन के सबसे पहले दर्शन पाने के लिए कतार में लग गए। सुबह करीब 6 बजे सूरज निकलने के साथ ही इंद्र देव ने अमृतरस श्रद्धालुओं पर बरसाना शुरू किया। 4 घंटे से भी ज्यादा समय तक झमाझम बारिश से पूरा शहर श्रद्धा-भक्ति की बारिश में लबरेज रहा।

गणेश चतुर्थी पर हुई इस बारिश से ऐसा लगा जैसे इंद्र सहित सभी देवता प्रसन्न होकर शहर को संपन्नता का आशीर्वाद दे रहे हों। उधर मोती डूंगरी में प्रथम पूज्य श्रीगणेश के दर्शन के लिए भक्तों का बारिश भी उत्साह कम नहीं कर पाई। बारिश में भी भक्तों की लंबी-लंबी कतारें लगी रही और सभी ने गणेशजी के दर्शन कर अपनी मनोकामनाएं मांगी।